महराजगंज : निचलौल थाना अंतर्गत ग्राम सभा धमउर स्थित धान के खेत में बुधवार को दोपहर दो बजे एक युवक का शव रहस्यमय हालात में बरामद हुआ। मृतक के शरीर पर चोट के निशान और खेत में संघर्ष के निशान मिले। दो घंटे बाद मृतक की पहचान धमउर गांव के कुटी टोला निवासी 21 वर्षीय संदीप पुत्र रामकुंवर विश्वकर्मा के रूप में हुई ।

जानकारी के अनुसार ग्राम धमउर के कुटी टोला निवासी संदीप विश्वकर्मा 10 सितंबर को घर से नेपाल में रहने वाले अपने बड़े भाई रंजीत विश्वकर्मा के पास जाने की बात कह कर निकला, पर पहुंचा नहीं तो बड़े भाई ने दूसरे दिन संदीप के न पहुंचने की जानकारी परिजनों को दी। परिजनों ने रिश्तेदारों व मित्रों से संदीप के बारे में पूछा लेकिन सभी ने कहा कि संदीप उनके घर नहीं आया है। संदीप का मोबाइल भी बंद मिला। बुधवार को दोपहर में धमउर के प्रधान ने गांव के बाहर एक धान के खेत में अज्ञात युवक का शव मिलने की जानकारी परिजनों को दी। परिजन पहुंचकर शव की शिनाख्त की और फफक पड़े। परिजनों संग ग्रामीणों ने बताया कि मृत संदीप के चेहरे पर गंभीर चोट व शरीर पर कई जगह खरोंच के निशान मिले हैं । चेहरे को किसी ज्वलनशील पदार्थ से जलाने की भी कोशिश की गई है । शव देखकर लगता है कि संदीप की हत्या की गई है। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची निचलौल पुलिस ने संदीप के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया। शाम को निचलौल थाने पर पहुंची बंद्रावती देवी ने पुत्र संदीप की हत्या की आशंका जताते हुए अज्ञात हत्यारों के खिलाफ तहरीर दी है। निचलौल थाने के प्रभारी निरीक्षक हरेंद्र मिश्र ने कहा कि तहरीर हत्या की मिली है, पर प्रथम ²ष्टया मामला आत्महत्या का लगता है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है।

Posted By: Jagran