जागरण संवाददाता, महराजगंज: नवरात्र की अष्टमी, नवमी और दशहरा के अवसर पर तीन दिन की लगातार छुट्टी रहने के चलते गुरुवार को नगर के एटीएम मशीनों पर ताले लगे नजर आए। जिसके चलते लोगों को नगदी निकासी के लिए भटकना पड़ा और उन्हें निराशा हाथ लगी। स्थिति यह रही कि शहर के अधिकांश एटीएम या तो खाली रहे या फिर उनके शटर गिरे रहे।

जिले में उपभोक्ताओं की सुविधाओं के लिए भारतीय स्टेट बैंक, एचडीएफसी, एक्सिस बैंक, यूनियन, केनरा, बैंक आफ बड़ौदा, पंजाब नेशनल बैंक, बैंक आफ महाराष्ट्र सहित विभिन्न बैंकों के 102 एटीएम लगे हैं। लेकिन इसमें से 50 एटीएम तो कहीं कैश के अभाव तो कुछ तकनीकी गड़बड़ी के कारण बंद रहते हैं। नवरात्र जैसे महत्वपूर्ण त्योहार के अवसर पर बैंकों की बंदी के चलते लोग एटीएम के सहारे धन निकासी की व्यवस्था में जुटे थे। लेकिन ऐन वक्त पर ही ये एटीएम दगा दे गए। गुरुवार को अधिकांश एटीएम के या तो शटर डाउन रहे अथवा नो कैश का बोर्ड लगा रहा। एसबीआई मुख्य शाखा का भी एटीएम बंद मिला। ग्राहक धन निकासी के लिए एक एटीएम से दूसरे एटीएम तक चक्कर लगाते नजर आए, लेकिन हर तरफ उन्हें निराशा मिली। कुछ ग्राहकों ने तो सहज जन सेवा केंद्र से आधार के माध्यम से धन निकासी कर अपनी जरूरतों को पूरा किया, लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को धन निकासी के लिए काफी दुश्वारियां झेलनी पड़ी। बैंकों को त्योहारों पर इस समस्या पर ध्यान देना जरूरी है। जगह-जगह बैंकों के लगे एटीएम अक्सर खाली ही रहते हैं।

Edited By: Jagran