महराजगंज : सोहगीबरवा वन्यजीव प्रभाग के शिवपुर रेंज के सोहगीबरवा के मुंजा टोला में शुक्रवार की सुबह नौ बजे के करीब तेंदुआ भोजन की तलाश में पहुंच गया। गांव में घुसे तेंदुए ने पांच बकरियों को अपना शिकार बना लिया। उसके हमले में एक व्यक्ति भी घायल हो गया।

ग्रामीणों के शोर मचाने पर तेंदुआ मुंजा टोला के पूरब प्राथमिक विद्यालय में जाकर छिप गया। शाम पांच बजे के करीब तेंदुए को विद्यालय परिसर से रेस्क्यू कर पिजड़े में पकड़ लिया गया। उसके गर्दन पर चोट लगी है। डीएफओ पुष्प कुमार के नेतृत्व में वनकर्मियों की टीम घायल तेंदुए को इलाज के लिए गोरखपुर चिड़ियाघर ले गई है।

सोहगीबरवा के मुंजा टोला के भागीरथी, अर्जुन व रामचन्द्र निषाद ने बताया कि शुक्रवार की सुबह वह खेत की तरफ गए थे। इसी बीच जंगल से निकले तेंदुए ने उन पर हमला कर दिया, जिससे किसी तरह जान बचा कर गांव की तरफ भागे। तेंदुए ने करीब 200 मीटर तक पीछा किया। उसके हमले में मुंजा टोला का चंदर घायल हो गया। रास्ते में बकरी देख तेंदुआ रुक कर उन पर हमला कर दिया। जिससे मुंजा टोला के हुसैनी, मोहर्रम, हरि, हजरत व श्रवण की पांच बकरियों को मार दिया। गांव में तेंदुआ आने की जानकारी मिलते ही ग्रामीण एकत्र होकर शोर मचाने लगे। साथ ही लाठी डंडे के साथ उसे भगाने में जुट गए। ग्रामीणों के इकट्ठा होकर शोर मचाने से घबराए तेंदुए ने मृत बकरियों को छोड़कर गांव के बाहर प्राथमिक विद्यालय के एक कमरे में घुस गया। कुछ देर बाद वह विद्यालय से निकल कर जंगल की तरफ भागने लगा। लेकिन थोड़ी दूर जाकर पुन: वापस आकर विद्यालय परिसर में बने शौचालय में घुस गया था। डीएफओ पुष्प कुमार ने बताया कि तेंदुए को इलाज के लिए लिए गोरखपुर चिड़िया घर पहुंचाया गया है। उसके गर्दन पर चोट लगी है। स्वस्थ होने के बाद उसे पुन: सोहगीबरवा जंगल में छोड़ दिया जाएगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप