महराजगंज : परतावल नगर के छातीराम हनुमान मंदिर पर बुधवार को महर्षि वाल्मीकि की जयंती मनाई गई। कार्यक्रम का शुभारंभ वाल्मीकि रामायण में निहित मानव मूल्यों, सामाजिक मूल्यों व राष्ट्र मूल्यों से जनमानस को जोड़ने के लिए दीप प्रज्वलित व विधिवत पूजन-अर्चन पनियरा विधायक ज्ञानेंद्र सिंह ने किया। कार्यक्रम के तहत रामायण पाठ एवं सुंदरकांड पाठ का आयोजन किया गया।

विधायक ने कहा कि रामायण की रचना के साथ ही उनके ही आश्रम में मर्यादा पुरुषोत्तम राम के दोनों पुत्रों लव और कुश की शिक्षा-दीक्षा हुई थी। महर्षि वाल्मीकि के आदर्शो से यह सीख मिलती है कि गलतियों को सुधार कर व्यक्ति कभी भी महान बन सकता है। इस दौरान नगर पंचायत परतावल के अधिशासी अधिकारी देवेंद्र मणि त्रिपाठी, नंदू दुबे, सुमित सिंह, शिवम द्विवेदी, अंगद गुप्ता, आनंद गुप्ता, अमन, रोशन राजभर, राजन मद्धेशिया, सर्वेश सिंह आदि उपस्थित रहे। वाल्मीकि जयंती पर हुआ सुंदरकांड का पाठ

नौतनवा: महर्षि वाल्मीकि जयंती पर चेयरमैन गुड्डू खान ने नगर स्थित प्रभु श्रीराम के दूत पवन पुत्र हनुमान के मंदिर पर सुंदर कांड का आयोजन किया। हवन कर मानव जाति के उत्थान व प्रगति के लिए मंगलमय कामना की गई। चेयरमैन ने कहा कि महर्षि वाल्मीकि द्वारा रचित पावन ग्रंथ रामायण में प्रेम, त्याग, तप व यश की भावनाओं को महत्व दिया गया है।

सभासद शाहनवाज खान, भानू कुमार, प्रमोद पाठक, दुर्गा प्रसाद, श्रवण कुमार, वीरेंद्र कुमार, जावेद अहमद,गर्व यादव,गया यादव आदि उपस्थित रहे। इसी तरह नगर के हियुवा कैंप कार्यालय पर महर्षि वाल्मीकि जयंती धूमधाम से मनाई गई। पदाधिकारियों ने उनके चित्र पर माल्यार्पण कर पद चिह्नों पर चलने का निर्णय लिया। जिलाध्यक्ष नरसिंह पांडेय ने कहा कि वाल्मीकि ने रचित रामायण में भारतीय संस्कृति के स्वरूप को कूट-कूटकर भरा है। महर्षि वाल्मीकि ने सत्य मार्ग पर चलने की प्रेरणा दी। ब्लाक संयोजक राधेश्याम गुप्त, राधेश्याम यादव, हरिनारायण सिंह लोधी, संतोष मोदनवाल, रामप्यारे यादव, रामानंद चौहान, बबून मिश्रा, ओमप्रकाश वरुण, रवि वरुण, भोला जायसवाल, हरीश चंद्र पासवान, उमेश आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran