महराजगंज: जिले के विकास का खाका तैयार करने वाला विकास भवन अब और हाईटेक होगा। इसमें वीडियो कांफ्रेंसिग हाल, कैफे और वाहनों की पार्किंग की सुविधा होगी। दीवारों पर कलात्मक रूप से विभागीय प्रचार-सामग्रियां उकेरी जाएगी, जो लोगों के आकर्षण का केंद्र होगा। इसके लिए मुख्य विकास अधिकारी गौरव सिंह सोगरवाल ने पहल शुरू कर दी है। शीघ्र ही इसकी सूरत बदली-बदली नजर आएगी। इस पूरे प्रोजेक्ट पर फिलहाल अभी 50 लाख रुपये खर्च का अनुमान है। जिले के विकास भवन में 27 कार्यालय हैं। इसमें 250 अधिकारी- कर्मचारी कार्यरत हैं। इसके अलावा प्रत्येक दिन दो हजार की संख्या में फरियादियों व ब्लाक स्तरीय अधिकारी व ग्राम विकास अधिकारियों का आना-जाना लगा रहता है। लेकिन इनके वाहनों की सुरक्षा की कोई व्यवस्था नहीं है। अक्सर वाहन चोरी की घटनाएं हो रही हैं। चाय-पानी के लिए भी परिसर में कोई व्यवस्था नहीं है, उन्हें बाहर की दुकानों का सहारा लेना पड़ता है। इसी के साथ आधुनिकता के इस युग में विकास भवन में वीडियो कांफ्रेंसिग हाल भी नहीं है। इसके मद्देनजर मुख्य विकास अधिकारी ने नई पहल की है। मुख्य विकास अधिकारी कक्ष के पीछे वीडियो कांफ्रेंसिग हाल बनाया जाएगा। विकास भवन परिसर में मुख्य गेट से प्रवेश करते ही दाहिने तरफ पार्किंग और कैफे की भी व्यवस्था की जाएगी। ताकि इससे जहां वाहन सुरक्षित रहें, वहीं परिसर के अंदर चाय, काफी और नाश्ता भी सुलभ हो सके।

मुख्य विकास अधिकारी गौरव सिंह सोगरवाल ने बताया कि विकास भवन के कायाकल्प की योजना बनाई गई है। इसके तहत वीडियो कांफ्रेंसिग हाल, पार्किंग, कैफे बनवाए जाएंगे। दीवारों के रंग-रोगन कर विभागीय प्रचार सामग्रियां प्रदर्शित की जाएगी, ताकि योजना का प्रचार-प्रसार हो सके और अधिक से अधिक लोग शासन की योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकें। समूहों के उत्पादों को बढावा देने की भी पहल

स्वयं सहायता समूह के उत्पादों को बढावा के लिए मुख्य विकास अधिकारी कक्ष में एक शो-केस बनाया जाएगा। इसमें स्वयं सहायता समूह के उत्पाद को प्रदर्शित किया जाएगा। ताकि वहां पहुंचने पर लोगों को इसकी जानकारी हो सके। इसके अलावा विकास भवन के विभागीय कार्यालयों के आंतरिक भाग के साथ-साथ बाह्य दीवारों पर भी विभागीय योजनाओं का प्रचार-प्रसार किया जाएगा। इस दौरान विभाग आम लोगों को योजनाओं के प्रति आकर्षित करने के लिए अपने तरीके से पेंटिग बनवा सकता है।

Edited By: Jagran