महराजगंज: गेहूं खरीद की निर्धारित अंतिम तिथि बढ़ाने की मांग को लेकर कांग्रेस जिलाध्यक्ष शरद कुमार सिंह के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने चिउरहा सहकारी समिति पर धरना दिया। इसके बाद जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा।

जिलाध्यक्ष ने कहा कि कोरोना संक्रमण की वजह कई केंद्रों पर ताला लटकता रहा। इसलिए अधिकतर किसान गेहूं नहीं बेच सकें है। अब गेहूं खरीद बंद करने से किसानों के समक्ष परेशानी खड़ी हो जाएगी। इसलिए किसानों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए निर्धारित तिथि 22 जून को बढ़ाते हुए 15 जुलाई तक गेहूं की खरीद की जाए। ताकि किसानों के गेहूं की खरीद हो सके और सही कीमत मिल सके। धरने पर कांग्रेस नेता आलोक प्रसाद, गोपला शाही, अकील शेख, नूर आलम, विनोद सिंह, चंद्रजीत भारती, कपिलदेव शुक्ला, अजय सिंह, हरिकेश पटेल, अकरम सलमानी, संदीप तिवारी, सुभाष पटेल, मौलाना असजद, संतोष पांडेय, मुन्ना, राजेश सिहं, चंदा, सोनू, दुर्गेश, अरविद कुमार सिंह आदि उपस्थित रहे। पदोन्नति की मांग को लेकर सौंपा ज्ञापन

महराजगंज: राजस्व संग्रह अमीन संघ के अध्यक्ष जगजीवन पटेल के नेतृत्व में अमीनों ने पदोन्नति की मांग को लेकर मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन अपर जिलाधिकारी को सौंपा। जिलाध्यक्ष ने कहा कि राजस्व संग्रह अमीनों को वर्ष 2003 से 2018 तक पदोन्नति से वंचित रखकर संवर्ग को बहुत बड़ी क्षति पहुंचाई गई और इस लंबी अवधि का कोटा भी हमें नहीं दिया गया है। वर्ष 2018 में मात्र 159 को राजस्व विभाग के पदों पर पदोन्नति दी गई। इसके बाद विभागीय पदोन्नति समिति की बैठक ही नहीं बुलाई गई और निरंतर अकारण पदोन्नति से वंचित रखा जा रहा है। पे ग्रेड 2000 के स्थान पर पूर्व की भांति उच्च व जोखिम पूर्ण दायित्वों के निर्वाहन करने पर 2800 पे ग्रेड अनुमन्य कराया जाए। विभागीय परंपराओं के अनुसार सीजनल सेवाओं का अन्य विभागों की भांति सेवा एवं वित्त लाभ के लिए जोड़े जाने का आदेश पारित किया जाए। इस दौरान जिलामंत्री अभिषेक मिश्र, उपाध्यक्ष रामचयन, विजय प्रताप शुक्ला, भोला गुप्ता आदि उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran