महराजगंज: कोरोना की जांच के लिए जिले के अस्पतालों और निर्धारित स्थलों पर शिविर लगाया गया। इस दौरान कुल 1344 लोगों ने जांच कराई। रविवार होने के कारण इस दिन रोज की अपेक्षा शिविर में युवक, महिला व पुरुषों की संख्या काफी कम रही। बृजमनगंज, धानी, घुघली, मिठौरा, नौतनवा, निचलौल, पनियरा, परतावल, फरेंदा, सिसवा में आयोजित शिविर में स्वास्थ्य कर्मियों को जांच कराने वालों का इंतजार करना पड़ रहा था। नोडल अधिकारी डा. आइए अंसारी ने बताया कि 672 लोगों की एंटीजन से जांच की गई है और 672 की ही आरटीपीसीआर जांच के लिए नमूना मेडिकल कालेज भेजा गया है। दो मिले कोरोना संक्रमित

महराजगंज: जिले में कोरोना मरीजों के मिलने की संख्या में उतार-चढ़ाव जारी है। शनिवार को जहां एक भी नहीं मिले थे, वहीं रविवार को दो और कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। जबकि दो मरीजों ने कोरोना से जंग भी जीत ली है। जिले में कोरोना मरीजों की संख्या 12376 हो गई है। इसमें 12232 मरीजों ने कोरोना को मात दे दी है। जबकि 136 की मृत्यु हो चुकी है। वर्तमान में सक्रिय मरीजों की संख्या घटकर आठ हो गई है।

मास्क न लगाने वालों ने चुकाया साठ लाख जुर्माना

महराजगंज: कोरोना संक्रमण में मास्क न लगाने वालों पर पुलिस एक हजार रुपये का जुर्माना लगा रही है। इसके बावजूद लोग मास्क न लगाकर मनमानी पर उतारू हैं। यह हाल उस वक्त है जब जिला पुलिस ने 48253 लोगों से करीब 60 लाख रुपये जुर्माना वसूल चुकी है। लोगों की बढ़ती मनमानी और कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए पुलिस ने मास्क का अभियान फिर शुरू कर दिया है। अपर पुलिस अधीक्षक निवेश कटियार ने बताया कि कोरोना संक्रमण से लोगों को बचाने अर्थात उनकी ही जिदगी बचाने के लिए पुलिस गुहार लगा रही है, लेकिन संक्रमण से बेफिक्र अपने जान को दाव पर लगा लोग बिना मास्क सुरक्षा के बाहर निकल रहे हैं, जो खतरे से खाली नहीं है। ऐसे में पुलिसकर्मियों को पुन: मास्क चेकिग अभियान चलाए जाने के निर्देश दिए गए हैं। अबतक जिले में मास्क न लगाने वाले कुल 48253 लोगों से 60 लाख 53 हजार रुपये का जुर्माना वसूल चुकी है।

Edited By: Jagran