महराजगंज: जिले के निचलौल, नौतनवा, फरेंदा व सदर तहसील में मंगलवार को आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस पर 409 शिकायतें आईं। इसमें से 23 मामले का मौके पर निस्तारण कराया गया जबकि 386 फरियादी निराश घर लौट गए। जागरण संवाददाता निचलौल के अनुसार जिला स्तरीय संपूर्ण समाधान दिवस जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय की अध्यक्षता में सुबह 10 बजे शुरू हुआ। शाम तक 158 लोगों ने शिकायत दर्ज कराई, इसमें से आठ का निस्तारण मौके पर किया गया। जिलाधिकारी ने अनुपस्थित मिले छह अधिकारियों से स्पष्टीकरण तलब किया। अपात्र को प्रधानमंत्री आवास आवंटित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले रोजगार सेवक की सेवा समाप्त कर दिया तथा ग्राम स्तरीय कर्मचारी व राजस्व वसूली में लापरवाही पर अमीन को प्रतिकूल प्रविष्टि देने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने कहा कि प्राप्त शिकायतों का समय सीमा में निस्तारण करें।सरकार के कल्याणकारी योजनाओ का सफल क्रियान्वयन कराएं । जिलाधिकारी ने सिसवा ब्लाक के ग्राम चैनपुर में पीएम आवास के लाभार्थी रमेश के मामले में दूसरी किस्त की निकासी पर गांव के रोजगार सेवक इसरावती देवी द्वारा रिश्वत की मांग किए जाने की शिकायत पर तत्काल प्रभाव से जिला उद्यान अधिकारी भूषण प्रताप ¨सह से स्थलीय जांच कराई । जिसमें लाभार्थी रमेश अपात्र पाया गया । जिस पर रोजगार सेवक की सेवा समाप्त करते हुए ग्राम पंचायत अधिकारी को प्रतिकूल प्रविष्टि देने का आदेश किया । समाधान दिवस में जिला अग्रणी बैंक के प्रबंधक, सहायक आयुक्त वाणिज्य कर, एआरटीओ, अवर अभियंता जल निगम, सेवायोजन अधिकारी तथा स्टांप आयुक्त अनुपस्थित रहे । जिलाधिकारी ने कहा कि उचित स्पष्टीकरण न देने पर अनुपस्थित अधिकारियों का वेतन बाधित किया जाएगा। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक आरपी ¨सह मुख्य, विकास अधिकारी राम ¨सहासन प्रेम, बेसिक शिक्षा अधिकारी जगदीश शुक्ला, जिला पंचायत राज अधिकारी राम नरेश यादव, उपजिलाधिकारी देवेश कुमार गुप्त,बीडीओ विवेकानंद मिश्र,डी सी मनरेगा उपेंद्र पाल, पुलिस क्षेत्राधिकारी रणविजय ¨सह, इस्पेक्टर सर्वेश कुमार ¨सह, सहित जिला स्तरीय, तहसील स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे । जागरण संवाददाता नौतनवा के अनुसार तहसील सभागार में आयोजित समाधान दिवस त्वरित निस्तारण में फीका रहा। समाधान दिवस में कुल 78 फरियादी शिकायत लेकर आए। राजस्व के 39, पुलिस के 20, शिक्षा के एक, विकास के नौ व अन्य आठ मामले आए, जिनमें राजस्व के नौ मामले मौके पर ही निस्तारित कर दिए गए। शेष फरियादियों को मायूस होकर वापस लौटना पड़ा। तहसील दिवस की अध्यक्षता करते हुए उपजिलाधिकारी प्रेम प्रकाश अंजोर ने मातहतों को कड़े निर्देश दिए कि लंबित शिकायतों को शीघ्र ही जांच कर निस्तारित किया जाए। इस मौके पर तहसीलदार केशव प्रसाद, नायब तहसीलदार रवि कुमार ¨सह, बीडीओ लक्ष्मीपुर बसंती देवी एवं र्सिकल के सभी थानों के थानाध्यक्ष मौजूद रहे।

सदर तहसील में एडीएम इंद्रभूषण वर्मा की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित किया गया। इसमें 51 शिकायतें प्राप्त हुई, जिसमें पांच का मौके पर निस्तारण कराया गया। तहसीलदार राजेश कुमार जायसवाल ने बताया कि शेष शिकायतों का सप्ताह भीतर निस्तारण करा दिया जाएगा।

----------

तहसीलवार आए मामलों के निस्तारण की स्थिति

तहसील- आए मामले- निस्तारित मामले

निचलौल-158- आठ

सदर-51 - पांच

नौतनवा-78-नौ

फरेंदा-122-एक

------------

योग- 409 मामले आए- 23 निस्तारित

---------------

Posted By: Jagran