महराजगंज : जिले में कोरोना से बचाव का टीका और जांच के लिए अस्पतालों और निर्धारित स्थलों पर किशोरों सहित युवक, महिलाएं और पुरुषों की भीड़ लगी रही। पहली बार टीका लगवाने को लेकर किशोरों में काफी उत्साह रहा। इस दौरान 19317 लोगों को टीका लगाया गया। इसमें युवा व किशोर शामिल रहे। बुधवार जिला महिला अस्पताल, सभी सीएचसी और 12 इंटर कालेजों पर टीकाकरण का कार्य किया गया। किशोरों के टीकाकरण के लिए स्कूलों पर रजिस्ट्रेशन की भी व्यवस्था रही। इस दौरान 15 से 18 वर्ष आयु के किशोरों में गजब का उत्साह देखा गया।

नोडल अधिकारी डा. आइए अंसारी ने बताया कि जिले में किशोर सहित कुल 19317 लोगों को टीका लगाया गया है। एंटीजन से 1103 लोगों की जांच की गई। आरटीपीसीआर जांच के लिए 1025 लोगों का नमूना भेजा गया है। घुघली संवाददाता के अनुसार डीएवी नारंग इंटर कालेज घुघली में 15 से 18 वर्ष की छात्र-छात्राओं को कोरोना टीकाकरण के दूसरे दिन बुधवार को कुल 286 छात्र-छात्राओं को कोरोना टीका का प्रथम डोज लगाया गया। प्रधानाचार्य श्रीकिशुन सिंह ने बताया कि टीकाकरण के पहले दिन मंगलवार को 527 छात्र- छात्राओं को कोरोना की पहली खुराक दी गई थी। कोरोना जांच टीम में डा. मनोज कुमार कुशवाहा, एएनएम बीना यादव, मंशा, ज्योति, सुख सागर मौर्य, प्रियंका एवं सोनी गुप्ता आदि शामिल रहे।

खाद्यान्न वितरण में कोविड प्रोटोकाल का पालन करें दुकानदार

महराजगंज: जिला पूर्ति अधिकारी एपी सिंह ने जिले के कोटेदारों को कोरोना संक्रमण को लेकर निर्देश जारी करते हुए कहा है, कि सभी दुकानदार कोरोना संक्रमण को देखते हुए कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए ही खाद्यान्न वितरण करें। उन्होंने यह भी बताया कि निश्शुल्क खाद्यान्न वितरण की कार्रवाई प्रत्येक जनवरी महीने में छह जनवरी से 15 जनवरी तक पूरा कर लिए जाए। जिला पूर्ति अधिकारी ने कहा कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर कोटे की दुकान पर भीड़ न हो इसका भी अनुपालन किया जाए।

Edited By: Jagran