लखनऊ, संवाद सूत्र। थाना क्षेत्र के चिल्लावां में शनिवार को करंट की चपेट में आने से युवक की मौत हो गई। घटना के बाद परिवार में कोहराम मच गया। क्षेत्र के चिल्लावा निवासी बब्लू गौतम 28 वर्ष नादरगंज स्थित एक सरिया फैक्ट्री में मेहनत मजदूरी कर परिवार का भरण-पोषण करते थे। सुबह घर की लाइन ठीक करने के दौरान स्पार्किंग के बाद विद्युत तार टूट कर उनके ऊपर गिर गया। वह करंट की चपेट में आकर बुरी तरह जख्मी हो गए।

परिजन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पति की मौत की खबर सुनते ही रीना देवी बेहोश होकर गिर पड़ीं। मृतक बबलू गौतम अपने दोनों भाइयों में विशाल और राज से बड़ा था और उसके तीन मासूम बेटियां हैं। थाना प्रभारी निरीक्षक संतोष कुमार आर्य ने बताया कि करंट लगने से युवक की मौत हो गई है। मामले की जांच की जा रही है।

मातम में बदल गई खुशियां

दो दिन पहले बबलू के छोटे भाई राज का विवाह हुआ था। घर में खुशियों का माहौल था आसपास और दूरदराज के रिश्तेदार घर पर मौजूद थे। घर पर शनिवार को विवाह के बाद घर में मंडप उठान का संस्कार था। सभी रिश्तेदार और घर के लोग मंडप उठाने की तैयारी कर रहे थे। लेकिन ईश्वर को कुछ और ही मंजूर था। वैवाहिक माहौल के बीच बबलू गौतम की करंट के चपेट में आने से हुई मौत से परिवार की खुशियां मातम में बदल गई। परिवार और रिश्तेदारों का रो रो कर बुरा हाल है।

शव को घर तक ले जाने के लिए नहीं मिली एंबुलेंस

सरोजनी नगर में स्वास्थ्य विभाग की एक बड़ी लापरवाही और मानवता को शर्मसार कर देने वाली तस्वीर सामने आई है। यहां चिड़ावा निवासी मजदूर बबलू गौतम की मौत के बाद परिजन उसके शव को घर ले जाने के लिए अस्पताल के कर्मचारियों से गुहार लगाते रहे लेकिन किसी ने न सुनी मजबूरन परिजनों द्वारा उसके शव को हाथ मे लेकर इधर से उधर भटकते और युवक के शव को हाथो में उठाकर ले जाते हुए परिजनों का वीडियो सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हुआ फिलहाल, मानवता को शर्मसार करने वाली तस्वीरों के वायरल होने के बाद स्वास्थ्य विभाग की हर कोई भर्त्सना कर रहा है।

Edited By: Anurag Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट