लखनऊ, जेएनएन। राजधानी लखनऊ से बाहर कैबिनेट की बैठक के उदाहरण जरूर हैं लेकिन, कई दशकों से यह बैठक लखनऊ में ही होती रही है। राजधानी में अमूमन हर मंगलवार को होने वाली कैबिनेट बैठक इस बार प्रयागराज के कुंभनगर में होगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस बैठक के जरिये इतिहास रचेंगे। मंगलवार को कुंभ नगर में सुबह 11 बजे होने वाली बैठक की अध्यक्षता योगी आदित्यनाथ करेंगे। बैठक में दोनों उप मुख्यमंत्री और कैबिनेट मंत्रियों के अलावा स्वतंत्र प्रभार के राज्यमंत्री भी शामिल हो सकते हैं।

खास बातें

  • कैबिनेट की बैठक को लेकर की गई तैयारियों की डिप्टी सीएम ने ली रिपोर्ट
  • अफसरों ने की बैठकें, वीवीआइपी के रूट तय, आवागमन रहेगा प्रतिबंधित
  • 25 कैबिनेट, 9 स्वतंत्र प्रभार व 22 राज्य मंत्रियों के लिए किए गए भव्य प्रबंध
  • 15 प्रमुख सचिव तथा शासन के उच्चाधिकारियों के लिए भी की गई है व्यवस्था
  • 08 हेलीकॉप्टर और दो स्टेट प्लेन उतरेंगे, कुंभ मेला क्षेत्र व प्रयागराज शहर में 

कुछ महत्वपूर्ण प्रस्तावों को मिलेगी मंजूरी 

अपर मुख्य सचिव सूचना अवनीश कुमार अवस्थी ने कुंभ नगर में कैबिनेट की बैठक की जानकारी दी। बैठक के लिए रविवार की शाम तक एजेंडा तय नहीं हो सका था लेकिन, संकेत मिल रहे हैं कि सरकार कुछ महत्वपूर्ण प्रस्ताव ही मंजूरी के लिए लाएगी। योगी सरकार ने कुंभ के जरिये देश और दुनिया को एक अलग संदेश दिया है। विश्व भर के लोग कुंभ में आ रहे हैं और सफलता का नया कीर्तिमान भी बना है।

यादगार फैसले की भी उम्मीद

कुंभ की कैबिनेट की बैठक में कोई ऐसा महत्वपूर्ण फैसला हो सकता है जिसकी याद लंबे समय तक बनी रहे। यह प्रस्ताव आस्था से भी जुड़ा हो सकता है। शुक्रवार को हुई बैठक में कुंभ नगर में कैबिनेट की बैठक के प्रस्ताव को मंजूरी मिली थी। प्रयागराज में कैबिनेट की बैठक आयोजित करने के लिए सरकार के गठन के साथ ही पहल शुरू हुई लेकिन, इसे मूर्त रूप अब मिलने जा रहा है। 

कैबिनेट बैठक को लेकर भव्य इंतजाम 

कुंभनगरी में कैबिनेट की बैठक को लेकर भव्य इंतजाम हैं। तैयारियों को रविवार देर रात फाइनल टच दिया गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपनी कैबिनेट के साथ दिन भर कुंभ मेला में रहेंगे। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने उच्चाधिकारियों से तैयारियों की रिपोर्ट ली। सोमवार रात से ही मंत्रिमंडल के सदस्य कुंभनगरी में पहुंचने लगेंगे। मंगलवार सुबह भी कई मंत्री यहां पहुंचेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मंगलवार सुबह ही यहां पहुंचेंगे। सभी 25 कैबिनेट मंत्री, नौ स्वतंत्र प्रभार के मंत्री और 22 राज्य मंत्रियों के इंद्रप्रस्थम टेंट सिटी में रुकने और लंच की व्यवस्था की गई है।

संगम का सरकुलेटिंग एरिया दिन भर सील 

मुख्य सचिव, डीजीपी, अपर मुख्य सचिवों और लगभग 15 प्रमुख सचिवों समेत करीब डेढ़ सौ अफसरों के लिए इंतजाम किए गए हैं। कुंभ मेला के अरैल क्षेत्र में बनाए गए अस्थायी सर्किट हाउस में भी व्यवस्था की गई है। कैबिनेट की बैठक के लिए लगभग चार सौ करोड़ रुपये की लागत से बने देश के इंटीग्रेटेड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर (ट्रिपलआइसी) को सजाया जा रहा है। संगम का सरकुलेटिंग एरिया दिन भर सील रहेगा। संगम नोज पर घाट आदि दुरुस्त कराए जा रहे हैं। क्रूज से संगम की सैर के लिए भी व्यवस्था की जा रही है। अक्षयवट दर्शन, सरस्वती कूप और बड़े हनुमान मंदिर में दर्शन-पूजन के लिए तैयारी पूरी हो गई है। 

 

Posted By: Nawal Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप