लखनऊ (जेएनएन)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आगमन को देखते हुए आइएएस वीक में शुक्रवार रात राज्यपाल राम नाईक की ओर से दिए गए डिनर में अफसरों को सिर्फ शाकाहारी भोजन ही संतोष करना पड़ा। यह पहला अवसर था जबकि आइएएस वीक में राजभवन का रात्रिभोज लखनऊ के लजीज नानवेज व्यंजन के बिना दिया गया। इससे पहले अखिलेश शासन के आइएएस वीक में राजभवन में शाकाहारी-मांसाहारी दोनों तरह के व्यंजन तैयार कराए गए थे। 

आइएएस वीक शुक्रवार से ही शुरू हुआ है। पहले दिन मुख्यमंत्री की ओर से लंच और राज्यपाल की ओर से डिनर दिया गया। चूंकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शाकाहारी हैैं इसलिए उनका ध्यान रखते हुए मेन्यू में सिर्फ शाकाहारी व्यंजन रखे गए। अधिकारियों के अनुसार यह पहला मौका था जब आइएएस वीक समारोह में फिश, मटन और चिकन को मेन्यू में जगह नहीं मिली। इनकी जगह शाही कोफ्ता, दाल मखनी, पनीर टिक्का, फ्राइड राइस, हांडी पनीर, गुलाब जामुन और गाजर का हलवा जैसे आइटम को शामिल किया गया।  

गौरतलब है कि मायावती शासनकाल (2007 से 2012) को छोड़ कर हर साल आइएएस वीक का आयोजन किया जाता रहा है। यूपी के सभी  आइएएस अधिकारी पूरे परिवार के साथ इस समारोह में शिरकत करते हैं। 

Posted By: Nawal Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस