लखनऊ, जेएनएन। प्रदेश के ज्यादातर जिलों में बुधवार सुबह काफी देर तक घना कोहरा छाने के बाद निकली धूप से आमजन का सर्दी से राहत मिली। फिलहाल प्रदेशवासियों को अगले चंद दिनों में गलन से राहत मिलने की उम्मीद है। शुक्रवार से हवा का रुख बदलेगा और बंगाल की खाड़ी से आने वाली पूर्वी हवाएं तापमान बढ़ाएंगी। इन हवाओं से गलन में कमी और तापमान में वृद्धि से मौसम खुशगवार होने की उम्मीद है। कानपुर स्थित चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम विज्ञानी एसएन सुनील पांडेय ने बताया कि अगले दो दिन तक ठंडक बनी रहेगी। कोहरा संग धूप भी निकलेगी। 

लखनऊ में अधिकतम तापमान 22.6 डिग्री और न्यूनतम 11.9 डिग्री, प्रतापगढ़ में न्यूनतम तापमान 10 और अधिकतम 23 डिग्री, कानपुर में अधिकतम 21.6 और न्यूनतम 11.0 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ। उन्नाव व कानपुर देहात में न्यूनतम तापमान 11, इटावा, औरैया व फतेहपुर में 8, फर्रुखाबाद, बांदा, हमीरपुर व जालौन में 9, महोबा व चित्रकूट में 10 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

मौसम विभाग ने गुरुवार को लखनऊ, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, अमरोहा, मुरादाबाद, रामपुर, संभल, पीलीभीत, शाहजहांपुर, लखीमपुर खीरी, बहराइच, श्रावस्ती, हरदोई, बलरामपुर, गोंडा, सिद्धार्थनगर, बस्ती, संतकबीरनगर, महाराजगंज, कुशीनगर, गोरखपुर, देवरिया, कानपुर नगर, बाराबंकी, उन्नाव, रायबरेली, अमेठी, सुलतानपुर, अंबेडकरनगर, वाराणसी, प्रयागराज, गाजीपुर व आसपास के इलाकों में कोहरा रहने की संभावना जताई है।

प्रयागराज में न्यूनतम तापमान में उछाल दर्ज किया गया। हालांकि सुबह प्रतापगढ़, कौशांबी में कई जगह घना कोहरा छाया था। दिन में 10 बजे के आसपास सूर्यदेव के दर्शन हुए। प्रयागराज में सुबह आठ बजे ही सूर्यदेव दिखाई दिए। कानपुर में मंगलवार देर रात 9 से 10 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से चली तेज हवा ने ठंडक बढ़ा दी। हालांकि बुधवार सुबह घटकर 3.5 किमी प्रतिघंटा हो गई। 

लखनऊ में प्रदूषण से कुछ राहत

दूषित हवाओं से बुधवार को राहत मिली। मंगलवार को लखनऊ देश का छठा सबसे प्रदूषित शहर था। एक्यूआइ 406 के खतरनाक स्तर तक पहुंच गया था। हालांकि बुधवार को एक्यूआइ 84 इकाई नीचे आ गया और 322 रिकॉर्ड किया गया। जाहिर है कि प्रदूषण स्तर में कमी आने से राजधानीवासियों ने राहत की सांस ली। अन्य जगह भी प्रदूषण में गिरावट दर्ज की गई। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021