लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। उत्तर प्रदेश सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड के आठ सदस्यों के चुनाव के लिए गुरुवार को मतदाता सूची प्रकाशित कर दी गई। मतदाता सूची पर आपत्तियां 28 फरवरी की शाम पांच बजे तक दर्ज की जाएंगी। आपत्तियों का निस्तारण करने के बाद अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन तीन मार्च को होगा।

11 सदस्यीय सुन्नी वक्फ बोर्ड में सदस्यों के आठ पदों के लिए चुनाव होता है। इनमें यूपी से सुन्नी समुदाय के दो संसद सदस्य, दो विधान मंडल सदस्य, दो राज्य बार कौंसिल सदस्य व एक लाख रुपये प्रतिवर्ष की आय वाले वक्फ के दो मुतवल्ली सदस्य चुने जाते हैं। तीन सदस्य प्रदेश सरकार नामित करती है। इनमें एक सदस्य इस्लामिक स्कॉलर, एक समाजसेवी व एक विशेष सचिव स्तर के अधिकारी होते हैं। यही 11 सदस्य बाद में अध्यक्ष पद के लिए आपस में चुनाव करते हैं।

इन्हीं आठ पदों पर मतदान के लिए चुनाव अधिकारी शिवाकांत द्विवेदी ने गुरुवार को मतदाता सूची जारी कर सुन्नी वक्फ बोर्ड के नोटिस बोर्ड पर चस्पा कर दी। आपत्तियां 26 से 28 फरवरी के बीच सुबह 11 से शाम पांच बजे तक दर्ज की जाएंगी। दो मार्च को आपत्तियों का निस्तारण करते हुए अंतिम मतदाता सूची तीन मार्च को प्रकाशित की जाएगी। मुतवल्ली कोटे में कुल 592 मतदाता हैं। सांसद कोटे में सात, विधायक कोटे में 31 व बार कौंसिल सदस्यों में दो मतदाता हैं।

चूंकि बार कौंसिल सदस्यों में दो ही सुन्नी सदस्य हैं, इसलिए इस कोटे में निर्विरोध सदस्य निर्वाचित हो जाएंगे। बाकी सभी कोटे के मतदाताओं को अपने-अपने यहां से दो-दो सदस्यों काा चुनाव कराना होगा। यानी जो जिस कोटे का मतदाता है उसी कोटे के सदस्य को वोट दे सकता है। नामांकन पत्र चार मार्च को भरे जाएंगे। नामांकन वापसी पांच मार्च को होगी। इसके बाद चुनाव लडऩे वाले प्रत्याशियों की सूची छह मार्च को प्रकाशित की जाएगी। मतदान सात मार्च को होगा। परिणाम उसी दिन शाम को घोषित कर दिए जाएंगे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021