लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग राज्य विश्वविद्यालयों में समूह-ग के रिक्त पदों पर भी भर्तियां कराएगा। लखनऊ विश्वविद्यालय और डॉ.शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय समेत कुछ राज्य विश्वविद्यालयों ने भर्तियों के लिए चयन आयोग को अधियाचन भेजे हैं। आयोग इनका परीक्षण कर रहा है।

उत्तर प्रदेश में 16 राज्य विश्वविद्यालय संचालित हैं। इनके अलावा तीन राज्य विश्वविद्यालयों की सहारनपुर, अलीगढ़ और आजमगढ़ में स्थापना की जा रही है। लंबे समय से भर्तियां न होने से राज्य विश्वविद्यालयों में बड़ी संख्या में समूह-ग के पद खाली हैं। कुलाधिपति के तौर पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने राज्य विश्वविद्यालयों में इन रिक्त पदों पर भर्तियां करने का निर्देश दिया है।

राज्य विश्वविद्यालयों के समूह-ग के पदों पर भर्तियां करने का अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को अख्तियार है, लेकिन अभी तक विश्वविद्यालयों की ओर से इस दिशा में कोई कार्यवाही नहीं की गई थी। राज्यपाल के निर्देश के बाद विश्वविद्यालय हरकत में आए हैं और उन्होंने रिक्त पदों पर भर्तियों के लिए चयन आयोग को अधियाचन भेजना शुरू किया है।

उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के सूत्रों का कहना है कि कई राज्य विश्वविद्यालयों के पास समूह-ग पदों पर भर्ती के लिए अपनी सेवा नियमावली नहीं है। ऐसे में विश्वविद्यालयों के पास दो विकल्प हैं। वे या तो अपनी सेवा नियमावली बनाएं या सरकार की नियमावली को अपनाएं। कुछ विश्वविद्यालयों ने सरकार की सेवा नियमावली को अंगीकृत किया है।

यह भी पढ़ें : UPSSC कराने जा रहा समूह 'ग' में बंपर भर्ती, साल भर में भरें जाएंगे 50 हजार रिक्त पद

यह भी पढ़ें : यूपीपीएससी ने जारी किया 2021 का परीक्षा कैलेंडर, 12 माह में 16 भर्ती परीक्षाएं

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021