लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में होली के रंगों के बीच पुलिस ड्रोन कैमरों के जरिये भी उपद्रवियों पर कड़ी नजर रखेगी। डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में ड्रोन कैमरों से निगरानी किए जाने के साथ ही पुलिस कंट्रोल रूम व उप नियंत्रण कक्षों को पूरी तरह अलर्ट रखे जाने समेत कई कड़े निर्देश दिए हैं।

डीजीपी ने सर्कुलर जारी कर कहा है कि पुलिस अधिकारी होली के अवसर पर सभी धर्मों के महत्वपूर्ण व्यक्तियों से समन्वय रखें और उनसे निरंतर संवाद भी रखा जाए। कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए निष्पक्ष कार्रवाई की जाए और हर छोटे विवाद को भी पूरी गंभीरता से देखा जाए। डीजीपी ने कहा कि आबकारी विभाग के अधिकारियों से संपर्क कर सचल दस्ते बनाकर अवैध शराब के खिलाफ अभियान के तहत कार्रवाई की जाए। अवैध शराब कारोबारियों की सघन चेकिंग कराई जाए।

डीजीपी ने जिलों में मुख्य चिकित्सा अधिकारी से समन्वय कर अस्पतालों में आकस्मिक चिकित्सा सेवाएं दिन-रात चालू रखी जाए और 108 एंबुलेंस सेवा को अलर्ट रखा जाए। डीजीपी ने खासकर मिलीजुली आबादी वाले क्षेत्रों में जुलूस मार्गों का विशेषकर निरीक्षण कर लिया जाए। ऐसे मार्गों पर सभी संवेदनशील स्थानों पर अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की जाए। सीसीटीवी कैमरों के जरिये ऐसे सभी स्थानों पर सतर्क दृष्टि रखी जाए।

डीजीपी ने सोशल मीडिया के सभी प्लेटफार्मों की मानीटरिंग तथा आपत्तिजनक किसी भी पोस्ट पर विधिक कार्रवाई किए जाने के भी कड़े निर्देश दिए हैं। होली से पूर्व बाजारों व भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में सघन चेकिंग व फुट पेट्रोलिंग किए जाने के निर्देश भी दिए।

डीजीपी ने कहा कि 112 के वाहनों का संवदेनशील मार्गों के आलावा बाजारों के आसपास व अन्य प्रमुख स्थानों पर लगाया जाए। राजपत्रित अधिकारी इन वाहनों की चेकिंग भी करें। जरूरत के अनुरूप यातायात डायवर्जन पूर्व में तय कर लागू कराए जाए। डीजीपी ने अराजकतत्वों पर कड़ी नजर रखे जाने व ऐसे शरारतीतत्वों को पहले से चिह्नित कर निरोधात्मक कार्रवाई सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया है।

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस