Move to Jagran APP

UP News: योगी सरकार ने कृषि श्रमिकों को दिया तोहफा, न्यूनतम मजदूरी में 182 रुपये प्रतिमाह बढ़ोतरी, अब मिलेगा इतना!

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कृषि श्रमिकों की न्यूनतम मजदूरी में 182 रुपये प्रतिमाह की बढ़ोतरी की है। प्रमुख सचिव श्रम अनिल कुमार की ओर से इसकी अधिसूचना जारी कर दी गई है। अब मजदूरी 6162 रुपये प्रतिमाह तथा 237 रुपये प्रतिदिन तय की गई है। इससे पूर्व 26 मई 2023 को प्रतिमाह न्यूनतम मजदूरी 5980 रुपये तथा प्रतिदिन न्यूनतम मजदूरी 230 रुपये निर्धारित की गई थी।

By Alok Mishra Edited By: Shivam Yadav Thu, 11 Jul 2024 06:14 AM (IST)
मजदूरी 6,162 रुपये प्रतिमाह तथा 237 रुपये प्रतिदिन तय की गई है।

राज्य ब्यूरो, लखनऊ। सरकार ने कृषि श्रमिकों की न्यूनतम मजदूरी में 182 रुपये प्रतिमाह की बढ़ोतरी की है। अब मजदूरी 6,162 रुपये प्रतिमाह तथा 237 रुपये प्रतिदिन तय की गई है। इससे पूर्व 26 मई, 2023 को प्रतिमाह न्यूनतम मजदूरी 5,980 रुपये तथा प्रतिदिन न्यूनतम मजदूरी 230 रुपये निर्धारित की गई थी।

कृषि कार्य में शामिल ये क्रियाएं

प्रमुख सचिव श्रम, अनिल कुमार की ओर से इसकी अधिसूचना जारी कर दी गई है। कृषि कार्य के तहत भूमि को जोतना और बोना, किसी कृषि वस्तु का उत्पादन, खेती उगाना और काटना, खेती उपज के विपणन के लिये तैयारी और भंडार में या मंडी में वितरण, मंडी तक परिवहन, मशरूम की खेती सहित कृषि कार्यों के आनुषंगिक या उनके साथ की जाने वाली कोई क्रियाएं शामिल हैं। 

इसके अलावा वन संबंधी या काष्ठ उपकरण संबंधी क्रिया, जो कृषि कार्यों के साथ-साथ की जाती है, दुग्ध उद्योग, पशुधन में वृद्धि, मधुमक्खी पालन, कुक्कुट पालन और उनकी आनुषंगिक क्रियाएं भी सम्मिलित हैं। 

इन कार्यों के लिए मजदूरी की न्यूनतम दरें 6,162 रुपये प्रतिमाह या 237 रुपये प्रतिदिन निर्धारित की गई है। यदि कहीं इससे अधिक मजदूरी की दरों का भुगतान किया जा रहा है, तो उसका भुगतान किया जाता रहेगा।

यह भी पढ़ें: हाथरस हादसा: अखिलेश यादव ने सरकार को बताया फेल, सीएम योगी को कहा- जो कपड़े वह पहनते हैं…

यह भी पढ़ें: UP News: बसपा सरकार के मंत्री और बेटे के खिलाफ मुकदमा दर्ज, बहू ने लगाए मारपीट और धमकाने के आरोप