Move to Jagran APP

UP News: मुख्य सचिव ने दिए निर्देश- कोरोना प्रभावित जिलों में बढ़ाएं टेस्टिंग, सक्रिय करें डेडिकेटेड अस्पताल

मुख्य सचिव ने सभी मंडलायुक्तों व जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि अस्पतालों में कोरोना से बचाव के लिए दवा पीपीई किट ग्लव्स व मास्क आदि पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध रहे। वहीं मेडिकल कालेजों व अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट तथा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर को क्रियाशील किया जाए।

By Ashish Kumar TrivediEdited By: Shivam YadavPublished: Thu, 30 Mar 2023 01:08 AM (IST)Updated: Thu, 30 Mar 2023 01:08 AM (IST)
वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से समस्त मंडलायुक्तों एवं जिलाधिकारियों के साथ बैठक को संबोधित करते मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र।

लखनऊ, राज्य ब्यूरो: मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना के बढ़ रहे केस व एक अप्रैल से शुरू होने वाले संचारी रोग नियंत्रण अभियान की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि गौतम बुद्ध नगर, गाजियाबाद, लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज, गोरखपुर व वाराणसी में मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए विशेष सतर्कता बरती जाए। यहां अधिक से अधिक लोगों की कोविड जांच की जाए। जिलों में कोरोना के डेडिकेटेड अस्पतालों व वार्ड को तुरंत सक्रिय किया जाए।

मुख्य सचिव ने सभी मंडलायुक्तों व जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि अस्पतालों में कोरोना से बचाव के लिए दवा, पीपीई किट, ग्लव्स व मास्क आदि पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध रहे। वहीं मेडिकल कालेजों व अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट तथा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर को क्रियाशील किया जाए।

उन्होंने कहा कि पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से कोविड से बचाव के लिए लोगों को जागरूक करें। 11 अप्रैल व 12 अप्रैल को कोविड अस्पतालों की तैयारियों को परखने के लिए प्रदेश भर में एक साथ मॉक ड्रिल की जाएगी। ऐसे में तैयारियां पुख्ता होनी चाहिए। रक्तदान को प्रोत्साहित किया जाए।

उन्होंने कहा कि इससे पूर्व शनिवार को संचारी रोग नियंत्रण अभियान शुरू होगा। ऐसे में अंतर विभागीय सहयोग से इस अभियान को बेहतर ढंग से चलाया जाए। शहरों में साफ-सफाई की व्यवस्था चुस्त दुरुस्त होनी चाहिए। वेक्टर जनित रोगों से बचाव के लिए फॉगिंग कराई जाए। खुद जिलाधिकारी मौके पर जाकर अभियान की समीक्षा करें। तकनीकी व जन सहभागिता के प्रयोग से जिलाधिकारी योजनाओं की लागत में कमी लाने का प्रयास करें।

बैठक में प्रमुख सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य पार्थ सारथी सेन शर्मा, प्रमुख सचिव, नियोजन आलोक कुमार व महानिदेशक, स्कूल शिक्षा विजय किरन आनंद आदि मौजूद रहे।

पूरे प्रदेश में लागू होगा कोल्ड स्टोरेज इनफार्मेशन सिस्टम

फिरोजाबाद जिले में कोल्ड स्टोरेज इनफार्मेशन सिस्टम (सीएसआईएस) तैयार किया गया है। सीएसआईएस के नाम से मोबाइल एप और क्यूआर कोड तैयार किया गया है। क्यूआर कोड को स्मार्ट मोबाइल फोन पर स्कैन करते ही जिले के कोल्ड स्टोरेज की सूची व उसके बारे में जानकारी मिल जाती है। इसके माध्यम से किसान आसानी से कोल्ड स्टोरेज में जगह आरक्षित करा सकते हैं। 

मुख्य सचिव ने इस व्यवस्था को पूरे प्रदेश में लागू कराने के निर्देश दिए। वहीं चित्रकूट में कन्वर्जेन्स द्वारा समुदाय के लिए संपत्ति निर्माण का प्रस्तुतिकरण दिया। बैठक में बताया गया कि मनरेगा व अन्य फंड की मदद से 16 मनरेगा पार्क, 64 खेल के मैदान, 41 लाइब्रेरी व 75 अमृत सरोवर का निर्माण किया गया।

शनिवार से चलेगा स्कूल चलो अभियान

प्रदेश में एक अप्रैल यानी शनिवार से स्कूल चलो अभियान चलाया जाएगा। अभी परिषदीय स्कूलों में 1.91 करोड़ विद्यार्थी पंजीकृत हैं। इस बार यह संख्या दो करोड़ पहुंचाने का लक्ष्य है। शिक्षक गृह भ्रमण कर अभिभावकों को विद्यार्थी के प्रदर्शन के बारे में जानकारी दें। समय पर विद्यार्थियों को पाठ्य-पुस्तकों का वितरण किया जाए।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.