लखनऊ, राज्य ब्यूरो। सपा का दामन थाम चुके स्वामी प्रसाद मौर्या ने भाजपा को लेकर जो कटु वचन बोले थे, अब वही उनकी राह में शूल भी बन रहे हैं। भाजपा का साथ छोडऩे के बाद स्वामी प्रसाद ने ट्वीट कर कहा था कि 14 जनवरी की सुबह 11 बजे लखनऊ में ऐतिहासिक फैसला व नई राजनीतिक पारी की शुरुआत होगी। इसके बाद सपा के मंच पर पहुंचे स्वामी प्रसाद ने भाजपा को तहस-नहस करने का दंभ भरा था। जिसके बाद ट्व‍िटर पर उन्हें तीखी प्रतिक्रिया भी मिल रही हैं।

एक व्यक्ति ने स्वामी प्रसाद की मायावती के पैर छूते हुए तस्वीर साझा कर उनकी दलीय निष्ठा पर सवाल उठाया है। इस तस्वीर पर बेहद तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। स्वामी प्रसाद की यह तस्वीर इंटरनेट मीडिया पर खूब वायरल भी हो रही है। वहीं, भाजपा सरकार के मंत्री के तौर पर स्वामी प्रसाद द्वारा विधान परिषद में सपा पर बोले गए हमले का एक वीडियो भी साझा किया जा रहा है।

वहीं, ट्व‍िटर पर ही एक समाचार पत्र की कटि‍ंग के जरिए स्वामी प्रसाद के सपा को गुंडों व माफिया की पार्टी बताने वाले बयान की याद भी दिलाई गई है। वहीं, स्वामी प्रसाद के कुछ दिनों पूर्व बतौर भाजपा नेता दलितों, पिछड़ों व किसानों के लिए विकास कार्यों को गिनाने वाला एक वीडियो भी साझा किया गया है। गत दिनों स्वामी प्रसाद द्वारा किए गए ट््वीट पर लोग तरह-तरह के पलटवार कर उनके दलबदल पर तीखे सवाल उठा रहे हैं।

Edited By: Anurag Gupta