लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। चुनावी साल में राजस्व के मोर्चे पर उत्तर प्रदेश सरकार को राहत है। बीते जून के मुकाबले जुलाई में सरकार को 1491.74 करोड़ रुपये ज्यादा राजस्व प्राप्त हुआ है। जून में सरकार को जहां 11164.11 करोड़ रुपये राजस्व मिला था, वहीं जुलाई में यह बढ़कर 12655.85 करोड़ रुपये हो गया है। राजस्व में इजाफे से सरकार को चुनावी वर्ष में परियोजनाओं को रफ्तार देकर उन्हें अमली जामा पहनाने में सहूलियत होगी।

उत्तर प्रदेश सरकार के लिए तसल्ली यह भी है कि पिछले साल की तुलना में इस साल जुलाई माह में उसकी राजस्व प्राप्तियां 1980.43 करोड़ रुपये अधिक हैं। पिछले साल जुलाई में सरकारी खजाने में 10675.42 करोड़ रुपये राजस्व आया था। गौरतलब है कि पिछले साल के समान माह की तुलना में इस वर्ष सरकार को अप्रैल में 9898 करोड़ रुपये, मई में 2452.51 करोड़ रुपये और जून में 2129.28 करोड़ रुपये ज्यादा राजस्व हासिल हुआ है।

वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने बुधवार को बताया कि पिछले वर्ष की तुलना में इस साल जुलाई में करेतर राजस्व के मद भूतत्व एवं खनिकर्म को छोड़कर कर राजस्व के सभी प्रमुख मदों में अधिक प्राप्तियां हुई हैं। भूतत्व एवं खनिकर्म के मद में पिछले साल जुलाई में सरकार को 178.54 करोड़ रुपये की आमदनी हुई थी जो इस वर्ष 132.67 करोड़ रुपये रह गई। राज्य के स्वयं के कर राजस्व के प्रमुख मदों में जुलाई के मासिक लक्ष्य के सापेक्ष सर्वाधिक 98.4 फीसद वसूली वैट के मद में हुई है। वैट के मद में राजस्व वृद्धि में पेट्रोल-डीजल के दाम बढऩे की भी भूमिका है। जुलाई में राजस्व का मासिक लक्ष्य 17076.93 करोड़ रुपये था जिसके सापेक्ष राजस्व प्राप्तियां 74.1 फीसद रहीं।

पहले चार महीने में 68.8 फीसद रही कर राजस्व वसूली : चालू वित्तीय वर्ष में अप्रैल से जुलाई तक के शुरुआती चार महीनों में कर राजस्व की वसूली लक्ष्य के सापेक्ष 68.8 फीसद रही। वित्त मंत्री ने बताया कि अप्रैल से जुलाई तक कर राजस्व की मदों में कुल 62137 करोड़ रुपये प्राप्त करने का लक्ष्य था। इसके सापेक्ष 42739.71 करोड़ रुपये प्राप्त हुए।

जुलाई में राजस्व की स्थिति (करोड़ रुपये)

  • मद : लक्ष्य : प्राप्ति : प्राप्ति प्रतिशत
  • जीएसटी : 7028.3 : 4697.99 : 66.8
  • वैट : 2365.63 : 2328.34 : 98.4
  • आबकारी : 3940 : 2795.49 : 71
  • स्टांप एवं निबंधन : 2747 : 2089.29 : 76.1
  • परिवहन : 748 : 612.07 : 81.8
  • भूतत्व एवं खनिकर्म : 248 : 132.67 : 53.5

पिछले साल जुलाई से कितना ज्यादा/कम मिला राजस्व (करोड़ रुपये)

  • मद : प्राप्ति में वृद्धि/कमी
  • जीएसटी : 577.37
  • वैट : 424.8
  • आबकारी : 162.91
  • स्टांप एवं निबंधन : 723.74
  • परिवहन : 137.48
  • भूतत्व एवं खनिकर्म : -45.87

Edited By: Umesh Tiwari