लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में पहले चरण के मतदान से पहले नेताओं का दलबदल जारी है। समाजवादी पार्टी के विधान परिषद के सदस्य घनश्याम लोधी तथा शैलेन्द्र सिंह के साथ पूर्व आइएएस अधिकारी राम बहादुर ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।

भाजपा की जन कल्याणकारी नीतियों से प्रभावित होकर प्रदेश समाजवादी पार्टी के एमएलसी शैलेन्द्र प्रताप सिंह भाजपा में शामिल हो गए। वह तीन बार से समाजवादी पार्टी से एलएससी है। भाजपा प्रदेश अध्यक्षल स्वतंत्र देव सिंह के साथ उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के सह प्रभारी केन्द्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने समाजवादी पार्टी से एमएलसी घनश्याम लोधी तथा बसपा से लखनऊ के मोहनलालगंज क्षेत्र से प्रत्याशी रहे पूर्व आइएएस अधिकारी राम बहादुर को सदस्यता दिलाई। राम बहादुर नागरिक एकता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं।

इनके साथ फिरोजाबाद के शिकोहाबाद से समाजवादी पार्टी से इनके साथ पूर्व विधायक ओम प्रकाश तथा पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष फिरोजाबाद विजय प्रताप सिंह छोटू ने भी पार्टी की सदस्यता ली। शिकोहाबाद से भाजपा विधायक मुकेश वर्मा पिछले सप्ताह सपा में शामिल हो गये थे। सपा ने उन्हें प्रत्याशी भी घोषित कर दिया है। इससे खफा ओम प्रकाश ने शनिवार को सपा से इस्तीफा दे दिया था।

इस मौके पर स्वतंत्रदेव सिंह ने सभी का स्वागत करने के साथ कहा कि सपा ने गुंडों, माफियाओं और दंगाइयों को ब्रांड अम्बेसडर बना रखा है। अब तो भाजपा की पहली सूची आने के बाद उनकी निराशा साफ दिखने लगी है।

Edited By: Dharmendra Pandey