लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में 18वीं विधानसभा के गठन की तैयारी के बीच में बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने अपने 66वें जन्मदिन पर सत्ता में वापसी का भरोसा जताने के साथ पहले दौर के मतदान के लिए 58 में से बसपा के 53 प्रत्याशियों की सूची जारी की।

बसपा कार्यालय में उन्होंने कहा कि 58 में से पांच सीट के प्रत्याशियों की सूची बाद में जारी की जाएगी। बसपा प्रमुख मायावती ने 66वें जन्मदिन पर आयोजित लखनऊ में शनिवार को कार्यक्रम में दल-बदल कानून को कड़ा बनाने की भी मांग की। इस दौरान उन्होंने कहा कि बीएसपी को सत्ता में वापसी का पूरी उम्मीद है। पिछले कामकाज के आधार पर जनता हमें जिताएगी, विरोधी हमें सत्ता में आने से रोकने के लिए हर हथकंडे अपना रहे हैं, लेकिन जनता उनके इन हथकंडों को समझ चुकी है।

बसपा सुप्रीमो मायावती ने अपने जन्मदिन के अवसर पर प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी मेरे जन्मदिन को कोविड-19 का प्रोटोकॉल करते हुए मनाया जा रहा है। मेरे जन्मदिन को जनकल्याणकारी के रूप में आज सभी लोग मना रहे हैं।

मायावती ने मीडिया से कहा कि हम 2007 की तरह फिर हम फिर सत्ता में वापस आएंगे। बसपा ने ही प्रदेश में दलितों, पिछड़ों तथा वंचितों के लिए काम किया है। मायावती ने कहा कि हम हर वर्ग की भलाई के लिए सरकार चलाएंगे। बीएसपी दलितों के मुद्दे पर गंभीर है। 2007 की तरह फिर सत्ता में वापस आएंगे। इस दौरान मायावती ने कहा कि सतीश चंद्र मिश्रा के बेटे कपिल के साथ आकाश आनंद भी पार्टी के लिए काफी मेहनत कर रहे हैं।डॉक्टर भीमराव अंबेडकर ,मान्यवर कांशीराम के सिद्धांतों पर चलकर कमजोर, दलित, लाचार ,असहाय लोगों की मदद की है और कर रहे हैं। लखनऊ में शनिवार को अपने जन्मदिन के अवसर पर विधानसभा चुनाव में पहले चरण के मतदान के लिए पार्टी के 53 प्रत्याशियों की सूची जारी करने के साथ ही अपनी लिखित किताब ब्लू बुक के 17वें भाग का विमोचन भी किया।

मायावती खुद की लिखी ब्लू बुक (मेरे संघर्षमय जीवन एवं बीएसपी मूवमेंट का सफरनामा) के 17वें भाग के हिंदी व अंग्रेजी संस्करण का विमोचन किया। ब्लू बुक में काफी चुनौतियों वाले रहे पिछले एक वर्ष के दौरान पार्टी की गतिविधियों का पूरा लेखा-जोखा है।

कोरोना वायरस संक्रमण और विधानसभा चुनाव की आचार संहिता के मद्देनजर पार्टी ने पहले के वर्षों की भांति इस बार जन्मदिन पर प्रदेशभर में किसी तरह का कोई बड़ा आयोजन नहीं किया है। पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ता गरीबों, असहायों व अन्य अति जरूरतमंद लोगों को विभिन्न रूप में मदद की जाएगी। वैसे तो पार्टी के ज्यादातर प्रत्याशियों के नामों को अंतिम रूप देते हुए जिले स्तर पर उन्हें घोषित भी किया जा चुका है लेकिन जन्मदिन के मौके पर बसपा प्रमुख ने पहले चरण के मतदान के लिए प्रत्याशियों की सूची भी जारी की।

स्वामी प्रसाद के दावे हवा-हवाई

मायावती ने कहा कि दल-बदल कानून सख्त को बनाने की बेहद जरूरत है। सपा के साथ जाने वाले दल बदलू नेताओं के चीख-चीख कर बोलने वाले नेताओं को जनता नकार देगी। प्रमोशन का एससी-एसटी के आरक्षण का सपा ने विरोध किया था। यह वर्ग इनके काम को कैसे भूल सकता है। सपा ने सरकार बनते ही संत रविदास नगर का नाम फिर से भदोही कर दिया था। यह सपा का दलित विरोधी रवैया नहीं तो क्या है। सपा सरकार में दलितों का उत्पीडऩ हुआ होता रहा है। दलित इसे भूल नहीं सकती। उन्होंने कहा कि स्वामी प्रसाद हवा-हवाई बात करता है। वह मुझे क्या मुख्यमंत्री बनाएगा। वह तो कभी चुनाव जीता नहीं। बसपा में आने के बाद उसकी तकदीर बदली। भाजपा ने दलितों के हित में कुछ नहीं किया।

बसपा के 53 प्रत्याशियों की सूची

विधान सभा क्षेत्र - प्रत्याशी

1. कैराना - राजेंद्र सिंह उपाध्याय

2. शामली - बिजेंद्र मलिक

3. बुढ़ाना - हाजी मोहम्मद अनीश

4. चरथावल - सलमान सईद

5. पुरकाजी(अ.जा.) - सुरेंद्र पाल सिंह

6. मुजफ्फर नगर - पुष्पांकर पाल

7. खतौली - माजिद सिद्दीकी

8. मीरापुर - मोहम्मद शालिम

9. सिवालखास - मुकर्रम अली उर्फ नन्हे खां

10. सरधना - संजीव कुमार धामा

11. हस्तिनापुर (अजा) - संजीव कुमार जाटव

12. किठौर - कुशल पाल मावी उर्फ केपी मावी

13. मेरठ कैंटोनमेंट अमित शर्मा

14. मेरठ दक्षिण - कुंवर दिलशाद अली

15. छपरौली - मोहम्मद शाहिन चौधरी

16. बड़ौत - अंकित शर्मा

17. लोनी - हाजी आकिल चौधरी

18. मुरादनगर - हाजी अय्यूब इदरीशी

19. गाजियाबाद - सुरेश बसंल

20. मोदीनगर- डा. पूनम गर्ग

21 . धौलाना - वासिद प्रधान

22. हापुड़ (अजा) - मनीष कुमार सिंह उर्फ मोनू

23. गढ़मुक्तेश्वर - मोहम्मद आरिफ

24. नोएडा - कृपाराम शर्मा

25. दादरी - मनवीर सिंह भाटी

26. जेवर - नरेन्द्र भाटी डाडा

27. सिकंदराबाद - चौधरी मनवीर सिंह

28. स्याना - सुनील भारद्वाज

29. अनूपशहर - रामेश्वर सिंह लोधी

30. डिबाई - करन पाल सिंह उर्फ केपी सिंह

31. शिकारपुर - मोहम्मद रफीक उर्फ फड्डा

32. खुर्जा(अजा) - विनोद कुमार जाटव

33. खैर (अजा) - प्रेमपाल सिंह जाटव

34. बरौली - नरेन्द्र शर्मा

35. अतरौली - डा. ओमवीर सिंह

36. छर्रा - तिलक राज यादव

37. कोल - मोहम्मद बिलाल

38. अलीगढ़ - रजिया खान

39. इगलास(अजा) -सुशील कुमार जाटव

40. छाता - सोनपाल सिंह

41. मांट - श्याम सुंदर शर्मा

42. गोवर्धन - राज कुमार रावत

43. मथुरा - जगजीत चौधरी

44. बलदेव (अ.जा) - अशोक कुमार सुमन

45. एत्मादपुर - सर्वेश बघेल

46. आगरा कैंटोनमेंट (अजा)- भारतेन्दु अरूण

47. आगरा दक्षिण - रवि भारद्वाज

48. आगरा उत्तरी - मुरारी लाल गोयल

49. आगरा ग्रामीण (अजा) - किरन प्रभा केसरी

50. फतेहपुर सीकरी - डा. मुकेश कुमार राजपूत

51. खैरागढ़ - गंगाधर सिंह कुशवाहा

52. फतेहाबाद - शैलेंद्र प्रताप सिंह उर्फ शैलू

53. बाह - नितिन वर्मा।

Edited By: Dharmendra Pandey