लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने समाजवादी पार्टी (सपा) के मुखिया अखिलेश यादव पर करारा हमला बोला है। पिछली सरकारों के शासन को गजनी और गौरी जैसा बताते हुए पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को सीजनल हिंदू की संज्ञा दी। साथ ही कहा कि अखिलेश यादव रामलला व बाबा विश्वनाथ के दरबार में अपने पापों के लिए माफी मांगें।

शनिवार को जारी बयान में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव ने कहा कि सपा मुखिया अखिलेश यादव मौसमी बीमारी से ग्रसित हैं, जिसके प्रभाव के कारण वे सरकार के हर काम को खुद का काम बता रहे हैं। अब उन्हें काशी विश्वनाथ कारिडोर भी अपना बनवाया लग रहा है। वह भूल गए हैं कि उन्होंने केवल हज हाउस का ही फीता काटा था। मंदिर जाने वालों पर तो सपा सरकार ने गोलियां चलवाई थीं। प्रदेश की जनता यह भूली नहीं है, महादेव सब देख रहे हैं।

उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव की सरकार के कृत्य मुगल आक्रांता गजनी और गौरी से कम नहीं थे। मंदिरों के घंटे-घड़ियाल बहती हवा से भी न बज जाएं, इसके लिए भी पुलिसकर्मियों का पहरा यूपी के लोगों ने देखा है। वे भूले नहीं हैं कि 2017 के पहले दुर्गा पूजा और रामलीला के पांडाल लगाने के लिए कैसी मिन्नतें करनी पड़ती थीं। अब माहौल बदला है। कांवड़ यात्रा पर फूल बरसाए जाते हैं। कुंभ की प्रशंसा दुनिया करती है। अयोध्या में रामलला भव्य मंदिर में विराजित होने वाले हैं।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि सपा मुखिया को बाबा विश्वनाथ और रामलला के दरबार में जाकर माफी मांगनी चाहिए कि समाजवादी सरकार ने कारसेवकों पर अत्याचार किया। हिंदू संस्कृति और सनातन धर्म पर हमले किए।

Edited By: Umesh Tiwari