रायबरेली, संवाद सूत्र। उन्नाव के छोटीखेड़ा मजरे गालिबपुर, मौरावां की महिला का शव मंगलवार की सुबह गुरुबक्शगंज के बंडे गांव में खेत में पड़ा मिला। हत्यारों ने उसी के दुपट्टे से उसका गला घोंट दिया। पुलिस मामले की तहकीकात में जुट गई है। छोटीखेड़ा गांव की संगीता के पति शत्रोहन सोनकर की करीब आठ माह पूर्व मौत हो गई थी। वही मेहनत मजदूरी करके अपने चार बच्चाें का भरण पोषण करती थी।

सोमवार की शाम वह बाजार खरीदारी करने निकली थी। रात भर वह वापस नहीं लौटी तो बच्चे घबरा गए और परिवार के दूसरे लोगों को पूरी बात बताई। घरवाले उसकी खोजबीन कर रहे थे। मंगलवार की सुबह सूचना मिली कि छोटीखेड़ा से करीब दो किमी दूर रायबरेली के गुरुबक्शगंज थाना क्षेत्र के बंडे गांव में सड़क किनारे खेत में उसका शव पड़ा है। उसके कपड़े भी अस्त व्यस्त मिले। उसका गला उसी के दुपट्टे से कसा गया था।

ग्रामीणों की सूचना पर पहले 112 और फिर स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची। क्राइम सीन की पट्टी लगाकर घटनास्थल को घेरा गया। मौके से कोई महत्वपूर्ण साक्ष्य नहीं मिला। फोरेंसिक टीम भी वारदात स्थल पर नहीं पहुंची। बाद में शव थाने ले आया गया। सीओ महिपाल पाठक ने बताया कि दुपट्टे से कसकर महिला की हत्या की गई है। मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही वारदात का खुलासा किया जाएगा।

हत्या की वजह तलाश रही पुलिस : पति की मौत के बाद बच्चों की देखभाल का जिम्मा संगीता पर आ गया था। सास-ससुर सहित परिवार के अन्य लोग अलग-अलग घरों में रहते हैं। खेती किसानी करके संगीता ही सबकुछ संभाल रही थी। उन्नाव से रायबरेली की सीमा के गांव पर लाकर उसकी हत्या की गई। उसको किसने और क्यों मारा, इसी का उत्तर खोजने का प्रयास पुलिस कर रही है।

Edited By: Anurag Gupta