लखनऊ, संवादसूत्र। कुम्हरांवा रोड पर भैंसामऊ के पास शुक्रवार सुबह तेज रफ्तार लोडर ने स्कूटी सवार दो बहनों को कुचल दिया। हादसे में दोनों की मौत हो गई। दोनों मामा के साथ स्कूटी से स्कूल जा रही थीं। दुर्घटना के बाद चालक लोडर लेकर मौके से भाग गया। पुलिस ने अज्ञात चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

रामपुर बेहड़ा में रहने वाले सुधीर कुमार पुलिस विभाग में सिपाही हैं। वह लखीमपुर में तैनात हैं। उनकी नौ वर्षीय बेटी दृष्टि और आठ वर्षीय सृष्टि कुछ दिनों से तरनपुर इंटौंजा निवासी नाना रामकुमार के घर रह रही थीं। शुक्रवार सुबह दोनों दृष्टि और सृष्टि अपने मामा शिवम के साथ स्कूटी से स्कूल जा रही थीं। इस बीच कुम्हरावां रोड पर भैंसामऊ के पास पीछे से तेज रफ्तार लोडर ने स्कूटी में टक्कर मार दी। टक्कर से दोनों बहनें सिर के बल सड़क पर गिरीं। भागने के चक्कर में लोडर चालक ने उन्हें कुचल दिया।

स्थानीय लोगों की मदद से पुलिस तीनों घायलों को अस्पताल लेकर पहुंची। जहां, डाक्टरोंं ने सृष्टि और दृष्टि को मृत घोषित कर दिया जबकि शिवम की हालात नाजुक देख उन्हेंं भर्ती कर लिया। इंस्पेक्टर योगेंद्र सिंह ने बताया कि हादसे के बाद चालक लोडर लेकर मौके से भाग गया। अज्ञात चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसकी तलाश में दबिश दी जा रही है। दृष्टि रुदही स्थित सरदार पटेल स्कूल से कक्षा चार और सृष्टि कक्षा तीन की छात्रा है।

दोनों बेटियों की मौत से बदहवाश हुए पिता : दोनों बेटियों की एक सात मौत की सूचना से सुधीर बदहवाश हो गए। वह सूचना मिलते ही लखीमपुर से घर पहुंचे। उन्होंने बताया कि दोनों बेटियों में आपस में बहुत प्यार था। वह साथ ही स्कूल जाती, खेलती और पढ़ती थीं। परिवार में सृष्टि और दृष्टि के अलावा एक बेटा और बेटी और है। दोनों बेटियों की जानकारी से घर पर लोगों की भीड़ जुट गई।  

Edited By: Anurag Gupta