बहराइच, जेएनएन। कतर्नियाघाट वन्य जीव प्रभाग के निशानगाड़ा रेंज में बाघ ने एक महिला को जिंदा चबा लिया। गांव वालों ने मंगलवार को जंगल से सटे खेत के पास से महिला के क्षत विक्षत शव को बरामद किया है। हालांकि अभी वन विभाग ने घटना के पीछे बाघ के होने की पुष्टि नहीं की है।  

थाना सुजौली क्षेत्र के कतर्नियाघाट वन्य जीव प्रभाग के निशानगाड़ा रेंज अंतर्गत ग्राम पंचायत कारीकोट के मजरा नारायण टाड़ा गांव निवासी 50 वर्षीय महिला पार्वती पत्नी खरपत्तू को बाघ ने अपना निवाला बनाया है। मजरा नारायण टाड़ा गांव निवासी पार्वती सोमवार को शौच के लिए गए अपने पति को उसके देर शाम तक घर न लौटने पर उसकी तलाश में निकली थी। उधर देर रात घर लौटे पति खरपत्तू ने पत्नी के बारे में पूछा तो परिजनों ने बताया कि वह उसकी तलाश में शाम को ही घर से निकली थी। सुबह तक महिला का कुछ भी पता न लगने पर घर वालों ने गांव के लोगों की सहायता से उसकी तलाश में जुट गए । इस दौरान जंगल से सटे खेत के किनारे से महिला का अधखाया शव गांव वालों और परिजनों ने बरामद किया है।

मौके पर पंहुचे थाना प्रभारी रामजी सिंह ने परिवारजनों का बयान दर्ज किया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है । वहीं मृतक महिला के पति का कहना है कि वह दोपहर में गांव के किनारे शौच के लिए गया हुआ था तभी वन विभाग के कर्मचारियों ने उसे पकड़ कर रेंज कार्यलय ले गए थे। देर तक घर न लौटने पर उसकी पत्नी उसी के तलाश में निकली थी । घटना से परिवार के लोगों में मातम छाया हुआ है। डीएफओ जीपी सिंह ने महिला की मौत बाघ या तेंदुए के हमले में होने की पुषिट की है। कहा कि जांच के बाद ही स्पष्ट होगा कि महिला किस जानवार का शिकार हुई है।

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस