बाराबंकी, (निरंकार जायसवाल)। गणतंत्र दिवस की परेड के साथ पुलिस विभाग ने जिस थ्री नॉट थ्री रायफल को हमेशा के लिए विदा कर निष्प्रोज्य घोषित कर दिया है और उसके स्थान पर अब अत्याधुनिक इंसास रायफल से लैस हो गई है। जबकि, कानून व्यवस्था में पुलिस के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने वाले होमगार्ड के जवान अभी भी निष्प्रोज्य थ्री नॉट थ्री रायफल का प्रयोग कर रहे हैं। मजिस्ट्रेट की सुरक्षा में यही थ्री नॉट थ्री रायफल धारक होमगार्ड के जिम्मे है।

उप जिला मजिस्ट्रेट अथवा उप जिलाधिकारी की सुरक्षा में सशस्त्र होमगार्ड लगाए जाते हैं। इन होमगार्डों के पास थ्री नॉट थ्री रायफल हैं, भले ही पुलिस विभाग ने रायफल बदल दी हैं, लेकिन होमगार्ड विभाग के लिए अभी ऐसा कोई आदेश नहीं है। बाराबंकी पुलिस के पास करीब 700 थ्री नॉट थ्री रायफल थीं, जिनको 26 जनवरी 2020 को आखिरी बार परेड में प्रयोग के बाद चलन से बाहर कर दिया गया।

होमगार्ड कार्यालय में 180 रायफल

बाराबंकी होमगार्ड कार्यालय में 1270 होमगार्ड हैं। इनमें से 1045 होमगार्डों को डयूटी लग रही है। इनमें से करीब 300 होमगार्ड रायफल प्रशिक्षण प्राप्त हैं। विभाग के पास 180 थ्री नॉट थ्री रायफल हैं। जिनमें से 32 रायफल कोतवाली नगर में हैं। पुलिस ड्यूटी पर जो होमगार्ड जा रहे हैं वह अपनी रायफल से ही जा रहे हैं।

इन्‍हें नहीं मिला कोई आदेश

जिला कमाडेंट (होमगार्ड) एसपी सिंह ने बताया कि जिले सभी छह उपजिलाधिकारी की सुरक्षा में दो होमगार्ड चलते हैं जो थ्री नॉट थ्री रायफल से लैस होते हैं। इसके अतिरिक्त एफसीआइ, बिजली और दो जिलाधिकारी कार्यालय में दो-दो सशस्त्र होमगार्ड तैनात हैं। यह सभी थ्री नॉट थ्री रायफल से ही ड्यूटी करते हैं। विभाग को अभी थ्री नॉट थ्री रायफल से संबंधित कोई आदेश-निर्देश नहीं मिले हैं। 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस