हरदोई, जेएनएन। प्रेमी ने जाल में फंसाकर शादी कर ली। दो साल तक साथ रखा और बच्चा होने के बाद उससे किनारा कर लिया। घर से उसे लखनऊ बुलाकर खुद गायब हो गया। एक महिला हमदर्दी की आड़ में उसे झांसे में अपने साथ ले आई और 50 हजार रुपये में बेच दिया। अरवल पुलिस ने उसे खरीदने वाले को गिरफ्तार कर उसे बेचने वाली महिला और उसके साथी को भी पकड़ लिया। पुलिस महिला के प्रेमी की तलाश कर रही है। 

एसपी अमित कुमार ने बताया कि कन्नौज की युवती लखनऊ में किसी का इलाज करा रही थी। जहां अलीगढ़ के इब्राहिमपुर निवासी अली मोहम्मद भी इलाज कराने गया था। जहां दोनों एक-दूसरे से मिले और नजदीक आ गए। दोनों अलग-अलग समुदाय के थे, इसलिए परिवार ने शादी से इन्कार कर दिया। दोनों ने घर से भागकर शादी कर ली और दिल्ली में रहने लगे। दो वर्षों तक दोनों साथ रहे और उनका एक सात माह का बच्चा है।

जनवरी में अली मोहम्मद मां का इलाज कराने के बहाने लखनऊ आ गया। दो दिन बाद उसने अपनी पत्नी को फोन किया कि तुम भी लखनऊ आ जाओ। 25 जनवरी को वह ट्रेन से लखनऊ पहुंची। इसके बाद अली मोहम्मद ने फोन नहीं उठाया और वह बच्चे को लेकर दो दिन तक स्टेशन पर बैठी रही। जहां उसे फर्रुखाबाद की रहने वाली शबनम पत्नी नौशाद मिली और वह घरेलू काम कराने के लिए अपने घर ले आई।

एक सप्ताह तक युवती उसके पास रही। इसके बाद शबनम ने नसीमा मुहल्ला बजरिया थाना मऊ दरवाजा से युवती की शादी कराने के लिए कहा। नसीमा ने परचौली निवासी श्रीकृष्ण से संपर्क कर मित्रपाल से बात कराई। इन लोगों ने मित्रपाल से 50 हजार रुपये ले लिए। मित्रपाल उसे लेकर अपने गांव परचौली चला गया। जहां उसे कई दिनों तक रखा। ग्रामीणों ने युवती को देखकर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने युवती को बरामद कर एक महिला समेत तीन को गिरफ्तार कर लिया। 

 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस