लखनऊ, जेएनएन। डालीगंज स्थित ठठेहरी बाजार मुहल्ला निवासी पूर्व पार्षद कमुद्द्दीन के मकान में प्रेमी ने प्रेमिका की गोली मारकर हत्या कर दी। इसके बाद खुद को गोली से उड़ा लिया। युवती यहां अपनी छोटी बहन के साथ किराए पर रहती थी। घटना के समय छोटी बहन कोचिंग गई हुई थी। 

इंस्पेक्टर हसनगंज डीपी कुशवाहा के मुताबिक, युवक एकतरफा प्रेम करता था। इतना ही नहीं उससे शादी भी करना चाहता था, लेकिन युवती इन्कार कर रही थी। इसी से आक्रोशित युवक ने घटना को अंजाम दिया। मौके पर पहुंचे एसएसपी कलानिधि नैथानी समेत अन्य अधिकारियों ने फॉरेंसिक टीम के साथ छानबीन की। घटनास्थल से एक 315 बोर का असलहा और मृतक युवक की जेब से एक जिंदा कारतूस बरामद हुई है। दोनों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया। 

मकान मालिक कमुरूद्दीन ने बताया कि मूलरूप से बस्ती निवासी वंदना चौधरी (24) ने दो महीने पहले दो हजार रुपये पर कमरा किराये पर ली थी। उसके साथ छोटी बहन अर्चना भी रहती थी। वंदना एक निजी अस्पताल में नर्स थी और अर्चना बीएससी की पढ़ाई कर रही है। पड़ोसी किरायेदार बैंककर्मी रेनू ने बताया कि शुक्रवार सुबह दस बजे के करीब वंदना बस्ती के रुदौली निवासी युवक मदन निशाद के साथ कमरे पर आई, तब तक उसकी छोटी बहन कॉलेज जा चुकी थी। रेनू बाथरूम में कपड़े धुल रही थी, वंदना ने कहा कि मुझे नहाने दो कपड़े बाद में धुल लेना। इसी बीच युवक ने वंदना को जरूरी बात करने के बहाने कमरे में बुलाया और दरवाजा बंद कर लिया। दोनों में  किसी बात को लेकर कहासुनी हुई। तभी युवक ने वंदना के सीने पर गोली मारी और दरवाजा खोलकर खुद को सीने पर गोली मार ली।  

कमरे पर रात में रुका था ममेरा भाई

वंदना का ममेरा भाई रामनारायन चौधरी ने बताया कि वह रात में कमरे पर रुका था। वंदना की मौसी की बेटी केजीएमयू में भर्ती है। सुबह दस बजे रामनारायन केजीएमयू के लिए निकला तो हत्यारोपित युवक कमरे के बाहर खड़ा था और वंदना अंदर आ चुकी थी, लेकिन वह कुछ समझ न सका। इसके बाद रामनारायन चला गया। 

यह भी पढ़ें : पुल‍िस को फोन कर कहा, मैं मरने वाली हूं मेरी लाश ले जाओ...और फ‍िर क‍िया ऐसा

 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस