मेरठ (जेएनएन)। शहर में 11 व 12 अगस्त को भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक पर आतंकी साया मंडराने लगा है। खुफिया विभाग ने इस संबंध में अलर्ट जारी किया है। जिसके बाद पुलिस-प्रशासनिक स्तर पर सीएम की सुरक्षा चाक-चौबंद करने के निर्देश दिए गए हैं। सीएम कार्यालय से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा को लेकर 23 बिंदुओं पर इंतजाम करने के लिए कहा गया है।

बता दें कि मेरठ में 11 व 12 अगस्त को भाजपा की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक प्रस्तावित है। इसमें प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व तमाम मंत्री शामिल होंगे। खुफिया विभाग की मानें तो इस कार्यक्रम पर आतंकियों की नजर हो सकती है। इसके चलते पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।

मुख्यमंत्री का काफिला परतापुर हवाई पïट्टी से दस स्तरीय सुरक्षा में गुजरेगा। मुख्यमंत्री की बुलेटप्रूफ कार के अलावा पायलट कार, जैमर कार, एनएसजी कमांडो द्वारा फ्रंट एंड रेयर एस्कॉर्ट, रिंग टीम, वीआइपी कार, पार्टी कार फॉर पर्सनल स्टाफ, एंबुलेंस आदि काफिले में शामिल होंगी। बता दें कि मुख्यमंत्री बनने के बाद से योगी आदित्यनाथ आतंकियों, आइएसआइ समर्थकों व कट्टरपंथियों के निशाने पर हैं।

कुछ दिन पहले संदिग्ध कश्मीरी युवकों के लखनऊ पहुंचने की सूचना पर खुफिया विभाग अलर्ट हो गया है। एक अधिकारी के मुताबिक सीएम कार्यालय ने मुख्यमंत्री के दो दिवसीय प्रवास के दौैरान अतिरिक्त सुरक्षा इंतजाम के निर्देश जिला प्रशासन को दिए हैं। 

Posted By: Ashish Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप