Move to Jagran APP

UP: स्वामी प्रसाद बोले- धर्म की चादर में छिपे भेड़ियों से बनाओ दूरी, अखिलेश सही समय पर देंगे बयान

समाजवादी पार्टी एमएलसी स्वामी प्रसाद मौर्य के रामचर‍ितमानस पर द‍िए गए व‍िवाद‍ित बयान के बाद अब उन्‍होंने संतो महंतों धर्माचार्यों पर भी हमला बोला है। स्वामी प्रसाद ने कहा क‍ि धर्म की चादर में छिपे भेड़ियों से दूरी बनाओ।

By Jagran NewsEdited By: Prabhapunj MishraPublished: Sat, 28 Jan 2023 02:07 PM (IST)Updated: Sat, 28 Jan 2023 02:07 PM (IST)
UP Politics: सपा नेता स्‍वामी प्रसाद मौर्य एवं सपा प्रमुख अख‍िलेश यादव

लखनऊ, जेएनएन। सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के एक के बाद एक व‍िवाद‍ित बयान सामने आ रहे हैं। अब उन्‍होंने संतो, महंतों, धर्माचार्यों पर भी हमलावर होते हुए क‍ि अब धर्म की चादर में छिपे, भेड़ियों से दूरी बनाओ। वहीं स्वामी प्रसाद मौर्य ने यह भी कहा क‍ि इस देश के एससी, एसटी और पिछड़े वर्ग को न्याय दिलाने के लिए पार्टी सबसे पहले जाति आधारित जनगणना की मांग करेगी। इसके लिए हम केंद्र सरकार को पत्र लिखेंगे।

समाजवादी पार्टी के एमएलसी स्वामी प्रसाद मौर्य से जब पूछा गया कि क्या अखिलेश यादव रामचरितमानस पर अपने बयान के साथ खड़े हैं तो उन्‍होंने कहा क‍िअखिलेश यादव हमारी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। वह सही समय पर बयान देंगे।

इससे पूर्व स्वामी प्रसाद ने ट्वीट कर कहा था क‍ि देश की महिलाओं, आदिवासियों, दलितों एवं पिछड़ों के सम्मान की बात क्या कर दी, मानो भूचाल आ गया। एक-एक करके संतो, महंतों, धर्माचार्यों का असली चेहरा बाहर आने लगा। सिर, नाक, कान काटने पर उतर आये। कहावत सही है कि मुंह में राम बगल में छुरी। धर्म की चादर में छिपे, भेड़ियों से बनाओ दूरी।

इतना ही नहीं स्वामी प्रसाद ने यह भी कहा क‍ि अभी हाल में मेरे दिये गये बयान पर कुछ धर्म के ठेकेदारों ने मेरी जीभ काटने एवं सिर काटने वालों को इनाम घोषित किया है, अगर यही बात कोई और कहता तो यही ठेकेदार उसे आतंकवादी कहते, किंतु अब इन संतों, महंतों, धर्माचार्यों व जाति विशेष लोगों को क्या कहा जाए आतंकवादी, महाशैतान या जल्लाद।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.