लखनऊ (जेएनएन)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कहा कि भारत ने सत्य, शांति, सौहार्द और बंधुता की राह पर हमेशा विश्व का नेतृत्व किया है। मानवता के कल्याण के लिए हजारों सालों से भारत की ऋषि परंपरा के प्रसाद के रूप में योग, ध्यान, समाधि आदि अवस्थाओं का प्रचार किया गया है। परमतत्व का ज्ञान प्राप्त करने में सहायक भारतीय ऋषि परंपरा के प्रसाद को पूरब से पश्चिम तक पहुंचाने वाले परमहंस योगानंद एक महान संत थे। 

योगी अपने सरकारी आवास पर योगदा सत्संग सोसायटी ऑफ इंडिया की ओर से परमहंस योगानंद की 125वीं जयंती पर आयोजित समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि परमहंस योगानंद का जन्म पांच जनवरी, 1893 को गोरखपुर में हुआ था। उन्होंने अपने 61 वर्ष के जीवन में से 32 वर्ष का समय विदेश में यहां के साधना मार्गों से विश्व को परिचित कराने में बिताया। उन्होंने मानवता के कल्याण के लिए जो मार्ग प्रशस्त किया, वह वर्तमान में भी प्रासंगिक है।

कार्यक्रम में भाजपा महासचिव व राज्य सभा सदस्य भूपेन्द्र यादव ने कहा कि जीवन जीने का सही तरीका केवल ज्ञान नहीं, बल्कि उसकी अनुभूति है। परमहंस योगानंद ने क्रियायोग के माध्यम से संसार में रहते हुए ससीम से असीम होने का अनुभव दिया है। यह पद्धति स्वयं को बदलकर व्यापक परिवर्तन का प्रयास है। इस अवसर पर योगदा सत्संग सोसायटी, रांची के प्रशासक स्वामी ईश्वरानन्द गिरि ने परमहंस योगानंद के जीवन और कार्यों के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की। उपस्थित लोगों को ध्यान का अभ्यास भी कराया। कार्यक्रम के अंत में उन्होंने मुख्यमंत्री को स्मृति चिह्न के रूप में लीची का एक पौधा भेंट किया। यह पौधा लीची के उसी वृक्ष की पौध है, जिसके नीचे बैठकर परमहंस योगानंद ध्यान करते थे। इस अवसर पर ग्रामीण विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. महेन्द्र सिंह, लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ.एसपी सिंह और पूर्व मुख्य सचिव आलोक रंजन आदि मौजूद थे। 

सोशल मीडिया पर 130 करोड़ लोगों तक पहुंचा दीपोत्सव

कार्यक्रम के दौरान अयोध्या में छह नवंबर को आयोजित दीपोत्सव का उल्लेख करते हुए योगी ने बताया कि इस कार्यक्रम के बारे में उन्होंने अपनी सोशल मीडिया टीम से फीडबैक लिया। टीम ने उन्हें बताया कि सोशल मीडिया के जरिये दीपोत्सव कार्यक्रम 130 करोड़ लोगों तक पहुंचा। 

योगी ने दी राज्यपाल को दीपावली की बधाई

योगी ने दीपावली पर राजभवन जाकर राज्यपाल राम नाईक से शिष्टाचारिक भेंट की और उन्हें पर्व की बधाई दी। योगी ने उन्हें बधाई कार्ड और पुष्प भेंट किया। राज्यपाल ने भी मुख्यमंत्री को दीपावली की बधाई देते हुये उनके यशस्वी जीवन के लिए शुभकामनाएं दीं। 

 

Posted By: Nawal Mishra