लखनऊ, जेएनएन। समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने श्रम योगी मानधन योजना को लेकर सरकार पर सवाल उठाते हुए इसे मोदी सरकार का एक और झूठ का करार दिया। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा इस योजना को लेकर भ्रामक प्रचार शुरू किया जा रहा है। इसमें असंगठित क्षेत्र के लोगों को 18 से 40 के बीच अलग-अलग उम्र व अलग-अलग राशि 55 से 200 रुपए तक जमा करने पर भी 60 साल होने पर सबको 3000 रुपए प्रतिमाह मिलेंगे। अगर यह भाजपाई झूठ सच है तो लोग 40 साल में ही जुड़ेंगे और 55 रुपए ही जमा करेंगे।

पुलवामा की सच्चाई सामने लाने की मांग

अखिलेश ने पुलवामा हादसे और एयर स्ट्राइक की सच्चाई जनता के सामने लाने की मांग करते हुए कहा कि हम फौज का पूरा सम्मान करते हैं लेकिन, पुलवामा घटना की सच्चाई सामने लाना शहीदों के परिवार का सबसे बड़ा सम्मान होगा। उन्होंने कहा कि योगी सरकार सबसे बड़ा बजट पेश करने का दावा करती है परंतु बड़े बजट का क्या लाभ, यदि शहीदों के परिवार को एक करोड़ की मदद भी न कर पाएं। उन्होंने पुलवामा में शहीद हुए जवानों को शहीद का दर्जा देने की मांग की। अखिलेश ने कहा कि फौज से मेरा गहरा संबंध है। भाजपा के लोग फौज के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। सेना पर राजनीति करना उचित नहीं है।

पूरा कर्जा माफ होने से ही राहत

अखिलेश ने भाजपा की कर्ज माफी और नगद राहत देने की योजना पर तंज करते हुए कहा कि सरकार ने किसानों को चौकीदार बना दिया है। बेचारा रातदिन अपने खेतों की रक्षा में लगा है। दिखावे के लिए कर्ज माफी करने से किसानों का भला नहीं होगा। पूरा कर्जा माफ होने पर ही किसानों को राहत मिल सकेगी। उन्होंने कहा कि देश को नई सरकार और नया प्रधानमंत्री मिलेगा।

 

Posted By: Nawal Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस