लखनऊ। केंद्र सरकार पर लगातार भूमि अधिग्रहण को लेकर हमलावर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में केंद्र की मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने करारा हमला बोला है। स्मृति ने 80 के दशक में स्थापित सम्राट साइकिल के बंद होने के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए इसे कांग्रेस की सोची समझी चाल बताया। स्मृति ने जमीन के बैनामे के कागजात दिखाते हुए राजीव गांधी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा जमीन खरीद लेने का खुलासा किया। उन्होंने अपने पूर्व के वक्तव्य को दोहराते हुए कहा कि डेढ मिनट की बाइट देना आसान है और संसद में डेढ घंटे की बहस में बिना पर्ची बोलना कठिन। स्मृति ने अमेठी के समग्र विकास तक संघर्षशील रहने का वादा किया।

अपने एक दिवसीय दौरे पर अमेठी आई स्मृति ने सबसे पहले मटियारी कलां गांव में भाजपा दिवंगत नेता संत बक्स सिंह के परिजनों को सांत्वना दी। इसके बाद वे अमेठी पहुंचीं। जहां व्यापारी राजेश अग्रहरि द्वारा आयोजित कार्यक्रम में 25 हजार महिलाओं का प्रधानमंत्री जीवन सुरक्षा बीमा योजना के तहत एक वर्ष के प्रीमियम का तीन लाख का चेक एलडीएम मनमोहन शुक्ला को सौंपा। स्मृति ने कहा कि अमेठी के लोगों ने उन्हें दीदी कहा था वे इस रिश्ते को लगातार निभा रही हैं और तब तक निभाती रहेंगी जब तक यहां से कांग्रेस समाप्त नहीं हो जाती और अंतिम घर तक विकास नहीं पहुंच जाता। स्मृति ने कहा कि मोदी सरकार ने अमेठी के लिए वे काम किए हैं जो कांग्रेस की तीन पीढियां नहीं कर पाई। ऊंचाहार रेलवे लाइन हो या टांडा बांदा सडक मार्ग सरकार ने सबके लिए बजट जारी किया है। स्मृति ने कहा कि अक्टूबर माह में मैं फिर आउंगी और ऐसे लोगों को दस लाख का बिना गारंटी का लोन दिलाउंगी। बाहर पत्रकारों से बातचीत के दौरान स्मति ने कहा कि मैंने पहले भी कहा था कि डेढ मिनट की बाइट अासान है और बिना कागज के पार्लियामेंट में बोलना मुश्किल। राहुल जब चाहें मै उनसे डिबेट कर सकती हूं। प्रदेश सरकार की व्यवस्था पर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश संभावनाओं का प्रदेश है। यहां विकास का स्तर खराब है।

Posted By: Ashish Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस