सीतापुर, जेएनएन। कमलेश तिवारी की हत्या के बाद महमूदाबाद में दिन पर दिन सरगर्मी बढ़ती जा रही है। माहौल को देखते हुए पुलिस और प्रशासनिक खेमे के होश उड़े हैं। यही वजह है कि डीएम के आदेश पर सोमवार को धारा 144 लागू कर दी गई है। इसके अलावा सोशल मीडिया पर भी निगरानी बढ़ा दी गई है।

रविवार को कमलेश तिवारी के महमूदाबाद स्थित उनके पर शोक संवेदना व्यक्त करने पहुंचे गाजियाबाद के डासना मंदिर के पुजारी और उनके समर्थकों ने पुलिस की मौजूदगी में विशेष समुदाय को लेकर भड़काऊ भाषण दिया था। सीओ उदय प्रताप ङ्क्षसह ने बताया कि, इस मामले में एसपी एलआर कुमार के आदेश पर महमूदाबाद कस्बा इंचार्ज रमेश चंद्र त्रिपाठी की तहरीर पर पुजारी यती नरङ्क्षसहा नंद सरस्वती और अज्ञात समर्थकों पर संबंधित धाराओं में केस दर्ज किया गया है।

संवेदना जताने पहुंचे तो जांच से गुजरे

कानून मंत्री के आने की सूचना पर प्रशासन सुबह से ही अलर्ट मोड पर था। दिवंगत कमलेश तिवारी के घर के आस-पास सुरक्षा-व्यवस्था कड़ी कर दी गई थी। चौराहे से वाहनों को आने से रोक लगा दी गई थी। पीडि़त परिवार से मिलने वालों को पुलिस की कड़ी जांच से गुजरना पड़ रहा था।

संगीनों के साए में गईं कमलेश की अस्थियां

कमलेश तिवारी का परिवार सोमवार को उनकी अस्थियां लेकर बनारस के लिए रवाना हो गया था। सीओ महमूदाबाद ने बताया कि, परिवारजन के साथ सीतापुर और लखनऊ की पुलिस भेजी गई है। बनारस जाने के लिए पुलिस ने रूटचार्ट भी तैयार किया है।

तानाशाह पुलिस : और मीडिया पर पहरा

कमलेश की हत्या के बाद से लखनऊ पुलिस की तो किरकिरी हो रही है, लेकिन जिले की पुलिस भी मनमानी पर उतारू है। सोमवार को महमूदाबाद में पुलिस की कुछ ऐसी तानाशाही नजर आई। कवरेज करने गई मीडिया पर ही खाकी ने पहरा लगा दिया। आलम ये था कि, घर और गली के आसपास फोटो और वीडियोग्राफी पर पाबंदी थी। घर जाने वालों को बैरीकेङ्क्षडग लगाकर रोक दिया गया था।

डीएम अखिलेश तिवारी ने कहा क‍ि स्थानीय मीडिया को सुरक्षा कारणों से अंदर जाने की अनुमति नहीं दी गई। मीडिया का पूरा सम्मान है लेकिन, अभी हमारे लिए परिवार की सुरक्षा अहम है। एसपी एलआर कुमार ने बताया क‍ि  महमूदाबाद में हालात सामान्य है। भड़काऊ भाषण देने में गाजियाबाद के डासना मंदिर के पुजारी और उनके समर्थकों पर केस दर्ज हुआ है। सोशल मीडिया पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। 

 

कमलेश तिवारी को ह‍िंंदूरत्न सम्मान देगी ह‍िंंदू महासभा

ह‍िंंदूवादी नेता कमलेश तिवारी को अखिल भारतीय ह‍िंंदू महासभा मरणोपरांत ह‍िंंदूरत्न सम्मान से सम्मानित करेगी। यह घोषणा ह‍िंंदू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी त्रिदंडी महाराज, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रवींद्र कुमार द्विवेदी ने की। महासभा के पदाधिकारी लखनऊ प्रवास पर थे। उन्होंने घटना को लेकर शोक संवेदना प्रकट की और कमलेश तिवारी को श्रद्धांजलि दी। राजस्थान के प्रभारी आचार्य विजय प्रकाश मानव, बाबा धर्मदास, ह‍िंंदू स्वराज सेवा के राष्ट्रीय मंत्री कृष्ण राय चौधरी ने महमूदाबाद पहुंचकर कमलेश तिवारी के परिवारजनों से मुलाकात की और अपनी संवेदना प्रकट की।

लखनऊ स्थित ह‍िंंदू महासभा कार्यालय के सामने कमलेश तिवारी की प्रतिमा लगाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इससे भावी पीढ़ी प्रेरणा लेगी। इस अवसर पर राष्ट्रीय प्रवक्ता अधिवक्ता सुशील चौधरी ने खुर्शीदबाग का नाम बदल कर कमलेश तिवारी के नाम पर रखने की मांग की है। वहीं मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन भी भेजा है। राजस्थान के प्रभारी आचार्य विजय प्रकाश मानव ने बताया कि ह‍िंंदूरत्न सम्मान उनकी पत्नी किरन देवी को आठ नवंबर को नई दिल्ली में बुलाकर दिया जाएगा।

 

Posted By: Anurag Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप