लखनऊ, जागरण संवाददाता। लखनऊ विश्वविद्यालय करीब 200 शिक्षकों के पदों पर भर्ती की प्रक्रिया जल्द शुरू करेगा। इसमें प्रोफेसर, असिस्टेंट प्रोफेसर और एसोसिएट प्रोफेसर के पद शामिल हैं। आनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू करने के लिए दो से तीन दिन के अंदर विज्ञापन जारी होगा। भर्ती मई 2021 में हुए शासनादेश के अनुसार की जाएगी। नए बदलाव में असिस्टेंट प्रोफेसर को लिखित परीक्षा भी देनी होगी।

दरअसल, लविवि ने 16 सितंबर 2020 को शिक्षकों के 180 स्थायी पदों पर भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू की थी, लेकिन राजभवन ने चयन प्रक्रिया में पारदर्शिता लाने के लिए मई 2021 के शासनादेश के अनुसार भर्ती के आदेश दिए, जिसकी वजह से बीते जून में लविवि ने विज्ञापन निरस्त कर दिया था। इस बीच कोविड के चलते विश्वविद्यालय में कई शिक्षकों का निधन हो गया। अब उनके खाली पदों को भी इसमें शामिल करते हुए करीब 200 पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू की जा रही है। इनमें 90 पद असिस्टेंट प्रोफेसर, 70 पद एसोसिएट प्रोफेसर और 40 पद प्रोफेसर के शामिल हैं। जिन अभ्यर्थियों ने पहले आवेदन किया था, उन्हें फिर से आवेदन करने की जरूरत नहीं है। उन्हें अपने आवेदन पत्र को अपडेट करने का मौका दिया जाएगा।

लिखित परीक्षा, पीपीपी प्रजेंटेशन के बाद साक्षात्कार : शिक्षक भर्ती की प्रक्रिया में कई बदलाव किए गए हैं। लविवि प्रशासन के मुताबिक, आनलाइन आवेदन के बाद स्क्रूटनी की प्रक्रिया होगी। फिर एक सप्ताह की आपत्ति लेकर मेरिट जारी करेंगे। असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए लिखित परीक्षा, पीपीटी प्रजेंटेशन और फिर साक्षात्कार के बाद चयन होगा। लिखित परीक्षा एमसीक्यू (मल्टीपल च्वाइस क्वैश्चयन) आधारित 40 अंकों की होगी। पीपीटी प्रजेंटेशन के लिए भी 40 अंक और 20 अंक साक्षात्कार के लिए होंगे।

'शिक्षक भर्ती के लिए रोस्टर तैयार हो चुका है। आवेदन के लिए हमारी तैयारी है। जल्द ही विज्ञापन जारी हो जाएगा। मई 2021 के शासनादेश के अनुसार भर्ती होगी।'    -प्रो. आलोक कुमार राय, कुलपति, लविवि 

Edited By: Anurag Gupta