लखनऊ, जेएनएन। प्रदेश में कांग्रेस की दशा सुधारने के लिए नवनियुक्त राष्ट्रीय महासचिव एवं पूर्वी जिलों की प्रभारी प्रियंका गांधी 11 फरवरी को मिशन यूपी की शुरुआत करेंगी। प्रियंका चार दिन पार्टी मुख्यालय में रहकर जिलेवार संगठन की समीक्षा करेंगी। उनके साथ पश्चिमी जिलों के प्रभारी व महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया भी रहेंगे। प्रियंका को कार्यभार ग्रहण कराने के लिए खुद राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी 11 फरवरी को लखनऊ आएंगे।

प्रियंका अधिकारिक कार्यक्रम गुरुवार को जारी किया गया। यह पहला मौका होगा जब गांधी परिवार से कोई सदस्य पार्टी कार्यालय में ठहरकर संगठनात्मक गतिविधियों की समीक्षा करेगा। करीब तीन दशक से प्रदेश की सत्ता से बाहर रही कांग्रेस ने गत विधानसभा चुनाव में अपना न्यूनतम प्रदर्शन किया था। सपा से गठबंधन के बाद भी कांग्रेस के मात्र सात विधायक की जीत सके थे। सूत्रों का कहना है कि चुनावी तैयारियों में पिछड़ी कांग्रेस इसी माह उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर सकती है। 

अमौसी एयरपोर्ट से भव्य स्वागत

11 फरवरी को राहुल गांधी के साथ आ रहीं प्रियंका गांधी का एयरपोर्ट से पार्टी कार्यालय तक भव्य स्वागत किया जाएगा। गुरुवार को कार्यक्रम जारी होते ही स्वागत की तैयारी तेज हो गई है। पार्टी कार्यालय में प्रियंका व सिंधिया 11, 12, 13 व 14 फरवरी को प्रमुख नेताओं से संगठन व सियासी हालात पर चर्चा करेंगे। हर जिले से आधा दर्जन से अधिक नेता बुलाकर उनके स्थानीय समीकरणों की जानकारी जुटाई जाएगी। प्रोजेक्ट शक्ति और बूथ कमेटियों का ब्योरा जानने के साथ ही संभावित उम्मीदवारों पर भी चर्चा होगी। 

राजबब्बर आज आएंगे

राहुल गांधी के साथ प्रियंका गांधी व ज्योतिरादित्य सिंधिया के स्वागत की तैयारी के लिए प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर शुक्रवार का लखनऊ आ रहे हैं। सूत्रों के अनुसार छोटे दलों से गठबंधन की संभावनाओं के अलावा प्रियंका अपने लखनऊ दौरे में प्रदेश की तीन दर्जन से अधिक उन लोकसभा सीटों पर ही अधिक फोकस करेंगी जहां कांगे्रस अधिक आस लगाए है।

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप