बहराइच, जेएनएन। उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले में घटिया ड्रेस वितरण मामले की जांच करने बुधवार को प्राथमिक विद्यालय पहुंचे अफसर का छात्र-छात्रओं ने घेराव किया। बच्चों के झुंड में अफसर जकड़ गए। इस दौरान छात्र निलंबित शिक्षक को बेकसूर बताते रहे। इस पर जांच अधिकारी के आश्वासन पर बच्चे नरम पड़े। इसके बाद बच्चे अर्द्धवार्षिक परीक्षा में शामिल हुए। 

ये है पूरा मामला 

दरअसल, जिले स्थित फखरपुर ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय सरसठ बिटौरा के प्रभारी प्रधान शिक्षक अवधेश कुमार झा को पांच अक्टूबर का निलंबन कर दिया गया था। ग्रामीणों का कहना है कि शिक्षक बच्चों को न सिर्फ अच्छी शिक्षा देते थे, बल्कि उनकी सेहत के साथ अन्य सुविधाओं का भी ख्याल रखते थे। आरोप है कि उन्होंने घटिया ड्रेस वितरण करने से मना कर दिया था। इसी के चलते उन पर कार्रवाई की गई। 

बच्चों ने स्कूल जाना किया बंद 

वहीं, अभिभावकों ने बताया कि बीते रविवार को प्रदर्शन के दौरान चेतावनी दी गई थी कि अगर शिक्षक को बहाल नहीं किया गया तो बच्चों को स्कूल नहीं भेजा जाएगा। मंगलवार को स्कूल खुलने के बाद शिक्षक आनंद कुमार शुक्ला बच्चों का इंतजार करते रहे, लेकिन कोई भी बच्चे पढऩे नहीं पहुंचे। स्कूल में पूरे दिन सन्नाटा पसरा रहा। ग्राम प्रधान रोमी मेहरोत्र ने बताया कि अभिभावकों से बच्चों को स्कूल भेजने के लिए कहा भी गया, लेकिन किसी ने बच्चों को पढऩे नहीं भेजा। बीईओ उपेंद्र त्रिपाठी ने बताया कि जांच के लिए टीम गठित की गई है। रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेजी जाएगी।

 

Posted By: Divyansh Rastogi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप