लखनऊ, जेएनएन। अगर आप गोमती रिवर फ्रंट शाम को घूमने जा रहे हैं तो शाम पांच बजे के बाद न जाएं, क्योंकि यहां अंधेरा होने के बाद लाइटिंग की कोई व्यवस्था नहीं है। जी हां, यहां सिंचाई विभाग द्वारा बिजली बिल जमा न करने के कारण बिजली काट दी गई है। करीब पांच करोड़ से अधिक का बकाया है।

गोमती नगर के अधिशासी अभियंता मुनीश चोपड़ा ने बताया कि सिंचाई विभाग के शारदा खंड के अधिशासी अभियंता पर पांच करोड़ बकाया है। कई बार पत्रचार किया गया, एडीएम प्रशासन की बैठक में उपखंड अधिकारी गए थे, यह मुद्दा भी उठाया। आश्वासन मिला कि अभी कनेक्शन जोड़ दिया जाएगा, जल्द ही बिजली बिल जमा कर दिया जाएगा। इसके बाद भी पैसा जमा नहीं हुआ। राजस्व को लेकर डिवीजन के हर अभियंता मशक्कत करते हैं, ऐसे में यह राशि कैसे नजरअंदाज कर दी जाए। उधर, गोमती रिवर फ्रंट घूमने आए पर्यटकों ने बताया कि बिजली कटी है तो ऐसे में यह रिवर फ्रंट एक बार फिर वीरान हो गया। वहीं, राजभवन डिवीजन से भी करीब 55 किलोवॉट का कनेक्शन है। इस डिवीजन का भी मार्च 2019 के बाद से बिल जमा नहीं किया गया। अभियंताओं के मुताबिक करीब 12 लाख रुपये बिल बाकी है। कुल 5.12 करोड़ बिल बकाया है।

क्‍या कहते हैं अफसर ?

गोमती नगर अधिशासी अभियंता मुनीश चोपड़ा के मुताबिक, यहां तीन कनेक्शन हैं, तीनों पर करीब पांच करोड़ रुपये बिल बकाया है, इसलिए कनेक्शन काटा गया है। हालांकि कुछ दिन पहले इसे आश्वासन के कारण जोड़ा गया था, लेकिन अभी तक पैसा जमा नहीं हुआ। 

 

Posted By: Divyansh Rastogi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस