Move to Jagran APP

Vikas Dubey Arrested News: विकास की पत्नी-नौकर और बेटे को कानपुर लेकर पहुंची STF

Vikas Dubey Arrested News कृष्णानगर के इंद्रलोक कॉलोनी में घर के पीछे से पकड़ी गई स्थानीय लोगों ने दी सूचना। पुलिस के नाक के नीचे छिपी रही प्लान के तहत पहुंच घर के पास।

By Anurag GuptaEdited By: Published: Thu, 09 Jul 2020 08:19 PM (IST)Updated: Fri, 10 Jul 2020 07:44 AM (IST)
Vikas Dubey Arrested News: विकास की पत्नी-नौकर और बेटे को कानपुर लेकर पहुंची STF

लखनऊ, जेएनएन। Vikas Dubey Arrested News: कानपुर कांड का मुख्य आरोपित विकास दुबे के उज्जैन से गिरफ्तार किए जाने के बाद गुरुवार रात उसकी पत्नी रिचा भी बेटे के साथ कृष्णानगर के इंद्रलोक कॉलोनी स्थित अपने मकान के पास से पकड़ी गई। डायल 112 पर स्थानीय लोगों ने विचार और उनके बेटे को देखकर फोन किया था इस बीच एसटीएफ की टीम भी वहां पहुंच गई और कृष्णा नगर पुलिस की मदद से रिचा को हिरासत में ले लिया। इससे पहले कृष्णा नगर पुलिस ने विकास के नौकर महेश को पकड़ कर एसटीएफ के हवाले कर दिया। विकास की पत्नी-नौकर और बेटे को एसटीएफ कानपुर लेकर पहुंची है। 

बताया जा रहा है कि रिचा गुरुवार रात में बेटे के साथ घर पर पहुंंची थी। घर पर पुलिसकर्मी मौजूद थे, जिन्हें देखकर दोनों वापस लौट गए। इस बीच स्थानीय लोगों ने दोनों को देखकर शोर मचा दिया। एसटीएफ को भी इसकी भनक लग गई और पुलिस ने दोनों को घेर लिया। महिला पुलिस की मदद से रिचा को गिरफ्तार कर लिया गया। रिचा और उनके नौकर महेश से एसटीएफ पूछताछ कर रही है। बताया जा रहा है कि एसटीएफ सभी को कानपुर लेकर रवाना हो गई है। कानपुर में विकास और उसके घरवालों का आमना सामना कराया जाएगा।

सूत्रों के अनुसार रिचा दुबे उर्फ सोना कृष्णा नगर में ही अपने एक जानने वाले के यहां रह रही थी। विकास दुबे के फरार होने के बाद उसकी पत्नी भी कृष्णा नगर स्थित घर से फरार हो गई थी। जिस की सीसीटीवी फुटेज भी पुलिस के हाथ लगी है। इस संबंध में थाने का कोई भी अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। रिचा दुबे तथा उसके छोटे लड़के को पुलिस लगातार ट्रेस कर रही थी। 

उज्‍जैन से अरेस्‍ट क‍िए गए विकास दुबे से पूछताछ में जुटी पुलिस को कुछ और संदिग्धों के बारे में पता चला है, जो उसके साथ मौजूद थे। उज्जैन के कई इलाकों में पुलिस उन लोगों की तलाश कर रही है। जानकारी के मुताबिक, सरेंडर के दौरान वह चिल्ला रहा था कि मैं विकास दुबे हूं, कानपुर वाला। सूत्रों के अनुसार दुबे के साथ कुछ और लोग थे, जो उज्जैन में ही ठहरे हुए थे। पुलिस को यूपी की दो कारें भी मिली हैं। इसमें शुभम नामक व्यक्ति का नाम भी सामने आ रहा है। पुलिस ने विकास के साथ मौजूद दो स्थानीय व्यक्तियों को भी गिरफ्तार किया है। फिलहाल उनसे पूछताछ की जा रही है। 

उधर, उज्‍जैन में लखनऊ निवासी अधिवक्‍ता की कार मिलने की जानकारी पाते ही राजधानी पुलिस सक्रिय हो गई। एडीसीपी राजेश कुमार श्रीवास्‍तव, एसीपी अमित कुमार व अन्‍य पुलिस बल आनन फानन अधिवक्‍ता के घर पहुंचे और छानबीन शुरू की। इस दौरान मनोज कुमार यादव की पत्‍नी अंजू ने बताया कि दो जुलाई को उनके पति अपनेे मित्र के साथ निकले थे। इस दौरान दोनों व्‍यापार के सिलसिले में शिवपुरी मध्‍य प्रदेश गए। इसके बाद दोनों बुधवार दोपहर करीब दो बजे उज्‍जैन में महाकाल के दर्शन करने के लिए पहुंचे। दोनों एक होटल में कमरा लेकर ठहरे थे।                                         

बता दें कि सीओ सहित आठ पुलिसकर्मियों की सामूहिक हत्या का मुख्य आरोपित विकास दुबे को उत्तर प्रदेश पुलिस के अलावा मध्य प्रदेश, राजस्थान और हरियाणा पुलिस भी तलाश कर रही थी। विकास दुबे गुरुवार रात पुलिस के साथ मुठभेड़ के बाद से ही फरार था। विकास की गिरफ्तारी से पहले यूपी पुलिस ने आज उसके दो साथियों का एनकाउंटर कर दिया था। 


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.