लखनऊ, जेएनएन। विधानसभा में बजट भाषण पढ़ते हुए गुरुवार को वित्तमंत्री राजेश अग्रवाल ने शेरों के जरिये अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाई तो शुक्रवार को भी उसका असर बना रहा। सत्तापक्ष और विपक्षी सदस्यों ने शेरो-शायरी के जरिये एक दूसरे पर प्रहार किए और खिंचाई की। भाजपा की संगीता बलवंत ने कुंभ पर उठाए जा रहे सवालों पर एक शेर पढ़ा- 

'जो आए हैं कागज के गोले चलाने, 

भाजपा सरकार की कमियां बताने। 

जिन्होंने लुटाए थे सैफई के मंचों पे दौलत, 

चले हैं वो सूरज को दीपक दिखाने। ' 

असल में संगीता बलवंत के पहले विपक्ष के सदस्यों ने खूब हमले किए थे। सपा के नफीस अहमद ने एक शेर पढ़ा था - 

'हो चुका तुमसे गरीबों का भला रहने दो, 

अपने संदूक में चांदी का खुदा रहने दो। 

जाने किस वक्त शराफत का जनाजा निकले, 

देश की हुकूमत दरवाजा खुला रहने दो।' 

इस बीच भाजपा की साधना सिंह ने भी तुकबंदियों के सहारे मोदी-योगी की जोड़ी पर एक रचना सुनाई लेकिन, उनके जवाब में सपा के मनोज पारस ने शेर पढ़ा-

 'तेरे सिर से हटाकर ताज ये साबित करेंगे हम, 

कि हमें अकड़ी हुई गर्दन को खम करना भी आता है। '

 शुरुआत में ही सपा के संग्राम यादव ने केंद्र और प्रदेश में भाजपा की सरकार होने के बावजूद हर मोर्चे पर असफलता की ओर इशारा कर शेर पढ़ा- 

'तुमने चाहा ही नहीं हालात बदल सकते थे, 

मेरे आंसू तेरी आंखों से निकल सकते थे। 

तुम तो ठहरे रहे झील के पानी की तरह, 

दरिया बनते तो बहुत दूर निकल सकते थे।' 

तो, सपा के अमिताभ बाजपेयी ने शायराना अंदाज में कहा- 

'धान खरीद में अनियमितता हुई, कूड़े का लगा अंबार। 

गाय, सांड़, सूअर और कुत्तों की संगोष्ठी से भरा कूड़ाघर।' 

नफीस अहमद, संगीता बलवंत और मनोज पारस ने तो कई शेर पढ़े। 

एंटी रैबीज वैक्सीन न होने का गर्माया मुद्दा 

अभिभाषण पर चर्चा के दौरान कुत्ता काटने पर एंटी रैबीज वैक्सीन न होने का भी मुद्दा गर्माया। बसपा के हरगोविंद भार्गव ने कहा कि उनके विधानसभा क्षेत्र सिधौली के सामुदायिक केंद्र में इंजेक्शन नहीं था जो जिले में सीएमओ से संपर्क किया लेकिन, उन्होंने भी हाथ खड़े कर दिए। सपा के मनोज पारस ने भी कहा कि पूरे प्रदेश में त्राहि-त्राहि मची है और कुत्ता काटने पर इलाज के लिए इंजेक्शन नहीं मिल रहा है। 

Posted By: Nawal Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस