लखनऊ, अजय श्रीवास्तव। आजादी के 75वें वर्ष पर अमृत महोत्सव में शामिल होने आ रहे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सामने थीम '75 होगी। प्रधानमंत्री 75 हजार लाभार्थियों को प्रधानमंत्री आवास योजना की डिजिटल चाबी सौपेंगे तो 75 परियोजनाओं को हरी झंडी दिखाएंगे। आवासों को बनाने में 75 नई तकनीक लांच की जाएगी। 75 कॉफी टेबुल बुक का लोकार्पण भी होगा।

गोमतीनगर के इंदिरागांधी प्रतिष्ठान में तीन दिवसीय इस आयोजन में प्रधानमंत्री पहले दिन पांच अक्टूबर को लखनऊ में रहेंगे। वह प्रधानमंत्री आवास योजना के कुछ लाभार्थियों से वर्चुवल बात करेंगे। यह लाभार्थी दस शहरों के होंगे, जिनका चयन होना बाकी है। कहा जाए तो प्रदेश में 75 हजार लाभार्थी चाबी पाकर पांच अक्टूबर को गृह प्रवेश करेंगे। लखनऊ को इन शहरों में शामिल नहीं किया गया है। चयनित शहरों में लाभार्थियों को प्रधानमंत्री का लाइव कार्यक्रम दिखाने की तैयारी की जाएगी।

आवासीय योजनाओं को लेकर 75 नई तकनीक को भी प्रधानमंत्री लांच करेंगे। यह तकनीक कम खर्च और कम समय में टिकाऊ आवास बनाने की होगी। इसी तरह प्रधानमंत्री 75 योजनाओं का लोकार्पण भी करेंगे। इन योजनाओं की सूची भी तैयार हो रही है। योजनाओं के साथ ही अमृत महोत्सव को लेकर 75 तरह की कॉफी टेबुल बुक का लोकार्पण भी प्रधानमंत्री करेंगे।

चमाचम नजर आएगा शहर: तीन दिन होने वाले आयोजन को लेकर शहर को चमाचम करने की तैयारी है। अमौसी हवाई अड्डे से लेकर इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान तक रंगबिरंगी लाइटें लगाई जाएंगी। इसी तरह दोनों तरफ फूलों से सज्जा की जाएगी। कुछ वैसा ही दृश्य शहर का दिखेगा, जैसा इंवेस्र्ट समिट में दिखाई दिया था

ढ़ाई सौ कमरे बुक होंगे: तीस राज्यों से मंत्री शामिल होंगे तो शहरी विकास से जुड़े विशेषज्ञ भी आयोजन में शामिल होंगे। देश भर से जुट रहे मेहमानों के लिए बड़े होटलों के 250 कमरों को बुक किया जाएगा। होटलों से कमरों की सूची मंगा ली गई है। दो चार दिन में होटल की सूची को फाइनल कर दिया जाएगा।

डेढ़ सौ इलेक्ट्रिक बसों को रवाना करेंगे: प्रदेश के सात शहरों को मिलने वाली डेढ़ सौ इलेक्ट्रिक बसों को प्रधानमंत्री वर्चुवल हरी झंडी दिखाएंगे। जिन शहरों को ये बसें दी जानी है, उसमे लखनऊ, गोरखपुर, कानपुर, वाराणसी, आगरा, झांसी, गाजियाबाद है।

 

Edited By: Rafiya Naz