लखनऊ, जेएनएन। तीन ज्योर्तिलिंग को जोडऩे के लिए चलने वाली हमसफर क्लास ट्रेन काशी महाकाल एक्सप्रेस सुविधाओं के मामले में देश की एक अलग ट्रेन होगी। इस ट्रेन में पहली बार जहां बोगी की गतिविधि पर नजर रखने के लिए सीसीटीवी को लाइन मॉनीटरिंग सिस्टम से जोड़ा गया है।

तेजस की तरह काशी महाकाल एक्सप्रेस के यात्रियों को मनोरंजन की सुविधा मिलेगी। एसी तृतीय क्लास वाली ट्रेन में हर यात्री को खाना एयरलाइन की तर्ज पर ट्राली से परोसा जाएगा। जायका भी समय समय पर बदलेगा। वाराणसी की कचौड़ी और इंदौर का पोहा शाकाहारी खाने का स्वाद बढ़ाएगा। इस हमसफर क्लास ट्रेन में यात्रियों को किराए के साथ ही खानपान का 300 रुपये देना होगा। हां हर बोगी में कॉफी व चाय की वेंडिंग मशीन होगी। बिना कोई चार्ज दिए निश्शुल्क ही यात्री कॉफी व चाय का आनंद उठा सकेंगे। यह देश की तीसरी और यूपी की दूसरी कारपोरेट सेक्टर की ट्रेन होगी।

सुरक्षा और सुविधा काशी महाकाल एक्सप्रेस के यात्रियों के लिए वरीयता पर रखी गई है। दोनो गेट के पास चार और गैलरी में दो सीसीटीवी लगेंगे। हर आने जाने वाले यात्रियों पर नजर रखने के लिए बोगी में ही अटेंडेंट के पास लाइव मॉनीटर होगा। हर बोगी की साइड लोअर बर्थ में दो सीटों के अंतर के कारण होने वाली कठिनाई को दूर करने के लिए उनको आरामदायक बनाया गया है। ट्रेन निरस्त होने पर यात्रियों को अपना टीडीआर भरने की जरूरत नहीं पड़ेगी। उनका रिफंड खुद ही खाते में आ जाएगा। खानपान सुविधा व ऑन बोर्ड सेवा प्रोफेशनल कर्मचारियों से दी जाएगी।

यह होगी खासियत

  • 5 सुरक्षाकर्मी रहेंगे हर बोगी में
  • 9 एसी थर्ड बोगियों की होंगी 1080 सीटें
  • 10 लाख रुपये का रेल ट्रैवल बीमा देगा आइआरसीटीसी
  • 1629 रुपये न्यूनतम होगा लखनऊ से इंदौर का किराया
  • 14.25 घंटे में तय होगा इंदौर तक का सफर
  • 300 रुपये कैटरिंग चार्ज भी होगा इसमें शामिल
  • 20 सीटें होंगी सीनियर सिटीजन के लिए आरक्षित
  • 6 सीटें होंगी महिलाओं व 4 बर्थ दिव्यांगजन की
  • 120 दिन पहले हो सकेगा एडवांस रिजर्वेशन
  • 5 साल के अधिक उम्र के बच्चों का होगा पूरा किराया
  • 4 घंटे पहले पहला चार्ट बनने और ट्रेन छूटने के पांच मिनट पहले तक बनेंगे टिकट

यह भी होंगे खास

  • वरिष्ठ नागरिक सहित किसी तरह की नहीं मिलेगी रियायत
  • सेना के जवान व केंद्रीय अद्र्धसैनिक बल के जवान सीजीडीए, सीआरपीएफ, एनडीआरएफ व एनएसजी के पोर्टल भी बुक कराएंगे ई-टिकट
  • रेलवे रिजर्वेशन काउंटर पर टिकट की बुकिंग नहीं होगी
  • डॉयनामिक किराया होगा जो व्यस्त सीजन में बढ़ेगा
  • ट्रेन में तत्काल रिजर्वेशन नहीं होगा
  • व्हील चेयर, होटल बुकिंग और टैक्सी किराए की सुविधा भी देगा आइआरसीटीसी

यह होंगे खास पड़ाव

यह ट्रेन वाराणसी के काशी विश्वनाथ, गंगा आरती, उज्जैन में महाकालेश्वर और इंदौर के पास ओमकारेश्वर को जोड़ेगी। इसके साथ प्रयागराज में त्रिवेणी संगम, लखनऊ का बड़ा इमामबाड़ा, इंडस्ट्रियल एरिया कानपुर, इंदौर का रजवाड़ा और कांच मंदिर को जोड़ेगी।

यह होगा समय

ट्रेन 82401 मंगलवार व गुरुवार को दोपहर 2:45 बजे वाराणसी से चलकर शाम 7:05 बजे लखनऊ, 8:50 बजे कानपुर, 3:20 बजे बीना, 5:25 बजे भोपाल के संत हीरदरम नगर, आठ बजे उज्जैन होते हुए 9:40 बजे इंदौर पहुंचेगी। जबकि ट्रेन 82402 काशी महाकाल एक्सप्रेस इंदौर से बुधवार व शुक्रवार सुबह 10:55 बजे चलकर दोपहर 12:10 बजे उज्जैन, 3:10 बजे संत हीरदरम नगर, शाम 5:10 बजे बीना, रात 11:40 बजे कानपुर, 1:20 बजे लखनऊ होते हुए सुबह छह बजे वाराणसी पहुंचेगी।

इलाहाबाद होकर

ट्रेन 82403 काशी महाकाल एक्सप्रेस प्रत्येक रविवार दोपहर 3:15 बजे वाराणसी से चलकर शाम 5:30 बजे इलाहाबाद, रात 8:50 बजे कानपुर, 3:20 बजे बीना होते हुए सुबह 9:40 बजे इंदौर पहुंचेगी। जबकि 82404 काशी महाकाल एक्सप्रेस प्रत्येक सोमवार सुबह 10:55 बजे इंदौर से चलकर दोपहर 12:10 बजे उज्जैन, 3:10 बजे संत हीरदरम नगर, शाम 5:10 बजे बीना, रात 11:40 बजे कानपुर, 2:35 बजे इलाहाबाद होते हुए सुबह पांच बजे वाराणसी पहुंचेगी।

 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस