लखनऊ। पूर्व कैबिनेट मंत्री रघुराज प्रताप सिंह को सीओ कुंडा जियाउल हक की हत्या के मामले में क्लीन चिट मिलने से सीओ जिया उल हक की पत्नी परवीन आजाद काफी आक्रोश में हैं। वह सीबीआइ की रिपोर्ट से संतुष्ट नहीं हैं। हालांकि उन्होंने यह कहा कि सीबीआइ ने जो जांच रिपोर्ट कोर्ट में दी वह मेरे पास नहीं है, पता चला कि आरोपियों को क्लीन चिट दे दी है। वह वकील के जरिए रिपोर्ट हासिल कर पुन: जांच की मांग करेंगी।

परवीन को न्यायपालिका पर भरोसा है। उन्होंने कहा कि मैंने प्रतापगढ़ के कुंडा में अपने पति की हत्या के बाद जो बयान दिया उस पर कायम हूं। पति के हत्यारों को सजा दिलाने और इंसाफ के लिए कोर्ट से लेकर रोड तक संघर्ष करूंगी। मैं धरना-प्रदर्शन से लेकर अनशन तक करूंगी। मैं पीछे हटने वाली नहीं हूं। हत्यारों को सजा दिलाना ही मेरा मकसद है। मेरे पति की बेरहमी से मारकर हत्या की गई। मैं बिना न्याय मिले चुप नहीं रहने वाली। मैं कोर्ट से जांच रिपोर्ट की कॉपी हासिल करने के बाद अदालत की दर पर दस्तक देकर अपने पति के हत्यारों को सजा दिलाने के लिए पुन: जांच की मांग करूंगी।

उल्लेखनीय है कि परवीन आजाद के पति सीओ कुंडा जियाउल हक की दो मार्च को बलीपुर में हत्या हो गयी। परवीन आजाद ने इस प्रकरण में तत्कालीन मंत्री तथा कुंडा के विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया के खिलाफ हत्या के षड्यंत्र का मुकदमा दर्ज कराया था।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस