हरदोई, जेएनएन। उत्‍तर प्रदेश के हरदोई में दून एक्सप्रेस के दिव्यांग कोच में महिला के साथ छेड़छाड़ का मामला सामने आया है। निजी सुरक्षा कंपनी के गार्ड तलाशी लेने के बहाने महिला को बाथरूम के अंदर ले गया। तभी महिला की चीखें सुनकर उसका पति पहुंचा और दरवाजा पीटने लगा। उसी बीच ट्रेन बालामऊ जंक्शन पर पहुंच गई और सुरक्षाकर्मी बाहर भाग निकला। आरपीएफ कर्मियों ने बंदूकधारी को पकड़ लिया और जीआरपी के सिपुर्द कर दिया। 

ये है पूरा मामला 

दरअसल, मूल रूप से रामपुर के मिलक थानाक्षेत्र का निवासी युवक अपनी पत्नी को बिहार के फारावारी से लेकर गुरुवार की रात दून एक्सप्रेस से जा रहा था। महिला और उसके पति के अनुसार, वह लोग दिव्यांग कोच में बैठ गए। उसी कोच में वर्दी में एक बंदूकधारी भी बैठ गया। दिव्यांग कोच में बैठे कुछ अन्य लोगों पर रौब गांठने लगा और फिर तलाशी लेना शुरू कर दिया। महिला के पति की तलाशी ली और तलाशी के बहाने महिला को बाथरूम में ले गया। वहीं पर महिला से छेड़छाड़ शुरू कर दी। पति ने शोर मचाते हुए दरवाजा पीटना शुरू कर दिया। उसी बीच ट्रेन बालामऊ जंक्शन पर पहुंच गई। तो सुरक्षाकर्मी मौका पाकर ट्रेन से उतर गया और भागते हुए झाड़ी में बैठ गया। महिला और उसके पति ने शोर मचाना शुरू किया। बालामऊ स्टेशन पर प्लेटफार्म पर मौजूद आरपीएफ कर्मियों ने बंदूकधारी को पकड़ लिया। फिर उन्हें जीआरपी के सिपुर्द कर हरदोई लाया गया। 

क्‍या कहना है पुलिस का ?

हरदोई थाना प्रभारी योगेंद्र कुमार के अनुसार, पकड़ा गया व्यक्ति हरदोई शहर के धर्मशाला मार्ग निवासी रजनीश सिंह है। जोकि लखनऊ में एक सुरक्षा कंपनी में गार्ड है। उसके पास से बंदूक भी बरामद हुई है। हालांकि, थाना प्रभारी का कहना है कि आरोपित ने महिला से छेड़छाड़ की है। जिसका मामला दर्ज कर लिया गया है और उसे जेल भेजा जा रहा है।

 

Posted By: Divyansh Rastogi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस