लखनऊ, जेएनएन। करीब तीन हफ्ते बाद मंगलवार को 2500 से कम संक्रमित मिलने से राहत महसूस की जा रही है। बीते 24 घंटे में 2407 संक्रमित पाए गए। जबकि 22 मरीजों ने दम तोड़ दिया। हालांकि इस दौरान 5079 मरीज स्वस्थ हुए। जो कि संक्रमित हुए मरीजों की तुलना में दो गुना ज्यादा है। 29 अप्रैल से जारी कर्फ्यू के बाद से ही संक्रमितों की संख्या में लगातार कमी देखने को मिल रही है। हालांकि मौतों के आंकड़ों में बहुत कमी नहीं आने से चुनौती बरकरार है। अस्पतालों में अभी भी मरीजों को समय पर आक्सीजन व वेंटिलेटर नहीं मिल पाने से वह दम तोड़ रहे हैं। इसके अलावा मरीजों की समय पर जांच नहीं हो पाने व रिपोर्ट आने में देरी की वजह से भी मरीजों की मौतों में कमी नहीं आ रही है।

सक्रिय मरीजों की संख्या 34 हजार के नीचे आई

संक्रमण घटने के साथ ही साथ लखनऊ में सक्रिय मरीजों की संख्या में भी लगातार कमी देखने को मिल रही है। मंगलवार को 5079 मरीज स्वस्थ होने से सक्रिय मरीजों की संख्या घटकर 33689 पर पहुंच गई। जबकि दो हफ्ते पहले यह संख्या 60 हजार के करीब थी।

संक्रमित शवों को कंधा देगा गुरुद्वारा 

संक्रमित शवों का अंतिम संस्कार न कर पाने वाले परिवारीजनों के लिए अच्छी खबर है। गुरुद्वारा सदर न केवल ऐसे परिवार के शवों को न केवल कंधा देगा बल्कि उनका अंतिम संस्कार भी निश्शुल्क करेगा। लखनऊ गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह बग्गा व गुरुद्वारा सदर के अध्यक्ष हरपाल सिंह जग्गी की पहल पर बुधवार से इसकी शुरुआत होगी। हरपाल सिंह जग्गी ने बताया कि दोपहर 12 बजे गुरुद्वारा सदर में हरी झंडी दिखाकर शव वाहन को आम लोगों को समर्पित किया जाएगा। उम्मीद संस्थान के सहयोग से यह अभियान शुरू होगा।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021