लखनऊ, जागरण संवाददाता। लखनऊ विश्वविद्यालय ने एक बार फिर स्नातक, परास्नातक और प्रोफेशन कोर्सों में दाखिल के लिए आनलाइन आवेदन की तिथि बढ़ा दी है। अब अभ्यर्थी सात अगस्त तक वेबसाइट के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। बीते मार्च से शुरू हुई इस प्रक्रिया में अब तक करीब 69 हजार अभ्यर्थियों ने आवेदन कर दिया है। इस संबंध में विश्वविद्यालय के कुलसचिव डा. विनोद कुमार सिंह ने निर्देश जारी किए हैं।

विश्वविद्यालय के प्रवेश समन्वयक प्रो. पंकज माथुर ने बताया कि अभी तक स्नातक पाठ्यक्रमों के साथ बीएलएड पाठ्यक्रम, परास्नातक पाठ्यक्रमों, स्नातक प्रोफेशनल पाठ्यक्रमों जैसे बीबीए, बीसीए, परास्नातक प्रबंधन पाठ्यक्रमों एमबीए, मास्टर आफ टूरिज्म एंड ट्रैवल मैनेजमेंट (एमटीटीएम), बीपीएड, एमपीएड, एम एड पाठ्यक्रमों के आवेदन के लिए 31 अगस्त तक समय सीमा तय थी।

शनिवार को एक सप्ताह के लिए इसे बढ़ा दिया गया है। इसमें डिप्लोमा, पीजी डिप्लोमा, एडवांस्ड डिप्लोमा, सर्टिफिकेट तथा प्रोफिशिएंसी पाठ्यक्रमों में भी आनलाइन आवेदन किए जा सकते हैं।

10 तक अपलोड करने होंगे आंतरिक परीक्षाओं के अंक

लखनऊ विश्वविद्यालय ने सभी विभागाध्यक्षों के साथ-साथ सभी महाविद्यालयों को मई-जून 2021 की आंतरिक परीक्षाओं के अंक आनलाइन अपलोड करने के लिए 10 अगस्त तक का मौका दिया है। विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर इसके निर्देश जारी किए गए हैं। परीक्षा विभाग के मुताबिक विश्वविद्यालय की स्नातक और परास्नातक सम सेमेस्टर 2021 के छात्रों के आंतरिक परीक्षाओं के अंक पोर्टल पर अपलोड करने का एक और मौका दिया है। सभी विभागाध्यक्ष एवं कालेजों को अनिवार्य रूप से तय तिथि तक अंक अपलोड करके हार्ड कापी अधीक्षक परीक्षाफल को उपलब्ध कराना होगा, जिससे नतीजे समय से घोषित किए जा सकें।

छह मृतक आश्रितों की नियुक्ति का अनुमोदन

कार्य परिषद में मृतक आश्रितों की नियुक्ति का प्रस्ताव भी रखा गया। मृतक आश्रित नियोजन समिति की संस्तुति को अनुमोदन करते हुए छह आश्रितों की नियुक्ति का प्रस्ताव मंजूर कर लिया गया। इसमें तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के पद शामिल हैं। इसके अलावा हैप्पी थिंकिंग प्रयोगशाला के लिए अवैतनिक निदेशक नियुक्त करने की स्वीकृति प्रदान की गई।

Edited By: Rafiya Naz