लखनऊ, जेएनएन। वार्ड विकास निधि को कम या खत्म करने की योजना का विरोध रंग लाया। नए वित्तीय वर्ष का बजट पास कराने के लिए मंगलवार को बुलाई गई महापौर की अध्यक्षता वाली कार्यकारिणी समिति की बैठक के बाहर और अंदर पार्षदों ने विरोध किया। करीब तीन घंटे तक चली बैठक में वार्ड विकास निधि का ही मुद्दा छाया रहा। बैठक में कार्यकारिणी समिति में शामिल भाजपा और विपक्षी दल के पार्षदों ने कटौती का विरोध किया तो बैठक कक्ष के बाहर सपा व कांग्रेस पार्षद नारेबाजी करते रहे। इस प्रदर्शन से भाजपा पार्षद दूर रहे और पार्षद कक्ष में बैठकर विपक्षी पार्षदों में विरोध करने की हवा भरते रहे। 

रविवार को स्थगित कार्यकारिणी समिति की बैठक मंगलवार शाम चार बजे शुरू हुई। नगर आयुक्त ने कहा कि अधिनियम में वार्ड विकास निधि का जिक्र नहीं है और नगर निगम आय के हिसाब से ही खर्च करेगा। ऐसा न होने से नगर निगम की देनदारी बढ़ती जा रही है। पार्षदों ने पूर्व से वार्ड विकास निधि जारी होने की परंपरा को खत्म न करने का मुद्दा उठाया। करीब एक घंटा चली बहस के बाद वार्ड विकास निधि को 1.10 करोड़ देने पर सहमति बनी। इसमें जीएसटी समेत निधि की राशि 1.25 करोड़ होगी। वार्ड विकास निधि में 3.08 लाख की कटौती की गई। नगर निगम ने चालू वित्तीय वर्ष के मूल प्रावधान में कोई कटौती नहीं की और उसे 160 करोड़ ही रखा गया है। हालांकि पुनरीक्षित बजट में यह राशि 177 करोड़ कर दी गई थी। 

'मत बनाइएगा भुगतान का दबाव: नगर आयुक्त ने बैठक में पार्षदों से कहा कि वे निर्माण हो जाने के बाद भुगतान का दबाव नहीं बनाएंगे। रोड लाइट को ठीक कराने को नहीं कहेंगे, क्योंकि वार्ड विकास निधि को कम न करने से देनदारी बढ़ेगी और रोड लाइट की रकम निजी कंपनी को न देने से काम प्रभावित होगा। 

बजट पर एक नजर

  •  19 अरब 46 करोड़ 82 लाख का मूल बजट 2021-22 
  •  कोई नया कर का भार नही डाला गया।
  •  जलकर और जलमूल्य पर भी कोई वृद्धि नहीं की गई 
  •  लक्ष्मण प्रेरणा स्थल बनाते हुए लक्ष्मण जी की सबसे बड़ी प्रतिमा 151 फीट की प्रतिमा लगेगी। एक करोड़ के बजट का प्रावधान 
  •  शहीद भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव की मूॢत एक साथ  किसी एक पार्क में लगाई जाएगी।
  •  महिला सदन में तय किए गए महिला बाजार पर बजट की मुहर लगा गई दी है। दुकानदार महिलाएं होंगी। 
  •  प्रमुख बड़े पार्को में महिलाओं के लिए यूरिनल और बेबी फीडिंग सेंटर के लिए बजट की व्यवस्था की गई।
  •  वर्षा जल संचयन वाले घरों में गृहकर में पांच प्रतिशत की छूट प्रदान की जाएगी।
  •  महापौर द्वारा अटल बिहारी वाजपेयी नगर निगम डिग्री कालेज के शिक्षकों को सातवां वेतनमान हेतु बजट की व्यवस्था की गई
  •  अटल बिहारी वाजपेयी नगर निगम डिग्री कॉलेज में आठ कमरे और हॉल बनाने के लिए बजट की व्यवस्था की गई।
  •  सामुदायिक केंद्र के निर्माण पर खर्च होंगे 50 लाख 
  •  शहर में नाली, सड़क और नाला बनाने पर विकास कार्यों हेतु 176 करोड़ रुपये खर्च होंगे
  •  निराश्रित पशुओं, गायों और कुत्तों के चिकित्सा और रखरखाव पर 11 करोड़ रुपये खर्च होंगे 
  •  रोड लाइट पर 21 करोड़ रुपये खर्च होंगे। 
  •  पार्को के विकास और रखरखाव पर 30 करोड़ रुपये खर्च होंगे।
  •  पार्को में कम्पोस्ट पिट बनाने पर दो करोड़ रुपये खर्च होंगे। 
  •  150 करोड़ रुपये से कल्याण मंडप बनाये जाएंगे।
  •  लावारिस लाशों के निस्तारण पर खर्च होंगे 10 लाख रुपये 
  •  नए शमशान घाटों को बनाने और उनके मरम्मत पर 30 लाख रुपये खर्च किये जायेंगे।
  •  नगर निगम के जोनल कार्यालयों के मरम्मत और सदन के हॉल को विधानसभा जैसे बनाने पर तीन करोड़ रुपये खर्च होंगे।
  •  नगर निगम की खाली पड़ी जमीनों को कब्जे से बचाने के लिए उनकी फेंसिंग कराई जायेगी, इसके लिए दो करोड़ रुपये का बजट 
  •  गरीब वेंडरों को बसाने के लिए दो करोड़ रुपये से वेंडिंग जोन बनाया जाएगा।
  •  आठ करोड़ रुपये से नई पाॄकग बनाई जाएगी।
  •  न्यायालय और विधानसभा समिति द्वारा दिये गए निर्देशों पर कार्य कराने हेतु पांच करोड़ रुपये खर्च होंगे
  •  नगर निगम कर्मचारियों की पेंशन पर 80 करोड़ तो कंप्यूटराइजेशन कार्य पर एक करोड़ खर्च होंगे
  •  शिक्षा पर खर्च होंगे 16.35 करोड़। इसमें नगर निगम के स्कूलों की मरम्मत पर खर्च होंगे चार करोड़ 
  •  कोरोना की रोकथाम के लिए पांच करोड़ का बजट 
  •  नई सड़कों के निर्माण पर भी पांच करोड़।
  •  श्मशान घाट और कब्रिस्तान की मरम्मत पर तीस लाख 

इससे होगी आय 

  •  भवन कर से तीन अरब 10 करोड़ (पहले 4.10 अरब का प्रावधान किया गया था)
  •  कुत्तों का लाइसेंस शुल्क दस लाख
  •  विज्ञापन शुल्क 10 करोड़ 
  •  पार्किंग ठेकों से 15 करोड़ 
  •  यूजर चार्ज  36 करोड़ 
  •  सुंदरीकरण शुल्क चार करोड़ 
  •  पुरानी योजनाएं ही बजट में 
  •  शहरवासियों को नगर निगम के बजट से कोई नई योजना नहीं मिलने जा रही है। 

किसका कितना बजट 

  •  नए कल्याण मंडप का निर्माण 50 लाख 
  •  नए विद्युत शवदाह निर्माण पर 30 लाख
  •  वेंडिंग जोन में नागरिक सुविधाओं पर 30 लाख
  •  अमीनाबाद इंटर कालेज व अन्य में स्मार्ट क्लासेज पर 40 लाख 
  •  मिनी स्पोर्ट्स कांपलेक्स का निर्माण 30 लाख अटल स्मृति उपवन पांच करोड़

 

Edited By: Rafiya Naz