लखनऊ, [निशांत यादव]। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के जन्मदिन के एक दिन पहले लखनऊ के तीन हजार कार्यकर्ताओं की प्रारंभिक और सक्रिय सदस्यता समाप्त हो गई। पांच साल के लिए बने इन प्रारंभिक और सक्रिय सदस्यों की सदस्यता की मियाद 30 जून को पूरी हो गई थी। समाजवादी पार्टी 16 जून से सदस्यता अभियान की शुरुआत करने की तैयारी में थी।

हालांकि आजमगढ़ और रामपुर उपचुनाव के चलते यह अभियान शुरू नहीं हो सका। जिस कारण लखनऊ नगर और जिला कमेटी के तीन हजार सदस्यों की सदस्यता समाप्त हो गई है। माना जा रहा है कि अब नगर व जिला कमेटी को भंग करके नए सिरे से सदस्यता अभियान की शुरुआत होगी।

सपा ने जून 2017 में सदस्यता अभियान चलाया था। पार्टी के संविधान के अनुसार पार्टी में पहले प्रारंभिक सदस्यता लेना अनिवार्य होता है। इसके बाद यह प्रारंभिक सदस्य 20 रुपये की पर्ची काटकर 50 नए सदस्यों को अपने साथ जोड़ता है। तब जाकर प्रारंभिक सदस्य को सक्रिय सदस्य बनाया जाता है। तय समय से पहले नगर व जिला कार्यकारिणी को विधानसभा और वार्डवार सदस्यता अभियान चलाकर नए सिरे से सदस्यों को जोड़ना था।

इसके लिए सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की ओर से अनुमति मिलने और सदस्यता पर्ची का इंतजार है। यह प्रारंभिक और सक्रिय सदस्य प्रदेश के बाद राष्ट्रीय कार्यकारिणी के अधिवेशन में हिस्सा भी लेते हैं। जिलाध्यक्ष जय सिंह जयंत कहते हैं कि नए सिरे से सदस्यता अभियान चलाने के लिए पर्ची प्रदेश कार्यालय पर आ गई हैं। अब आलाकमान के दिशा निर्देशों का इंतजार है।

सपा कार्यकर्ताओं ने मनाया अखिलेश यादव का जन्मदिन : सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का जन्मदिन शुक्रवार को पार्टी कार्यकर्ताओं ने धूमधाम से मनाया। कैसरबाग स्थित महानगर कार्यालय पर नगर अध्यक्ष सुशील दीक्षित और महासचिव सौरभ सिंह यादव के साथ कार्यकर्ताओं ने केक काटा। इस अवसर पर नगर निगम चुनावों के लिए पार्टी के लिए संघर्ष करने का आवाहन भी किया गया ।

यहां नगर उपाध्यक्ष मधुप सिंह यादव, प्रशांत यादव, संतोष श्रीवास्तव,किरन पांडे भी मौजूद थीं। उधर जिला कार्यालय पर कार्यकर्ताओं ने पौधरोपण के साथ मिष्ठान का वितरण किया। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष जयसिंह जयंत, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य जगदीप सिंह यादव , पूर्व सांसद सुशीला सरोज, अनुराग यादव सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Edited By: Anurag Gupta