सीतापुर, जागरण संवाददाता।   घर में घुसे चोरों से गृह स्वामी का बेटा भिड़ गया। खींचतान में चोरों ने गोली चला दी। गोली लगने से घायल गृह स्वामी के बेटे का लखनऊ में उपचार चल रहा है। वारदात संदना इलाके के समसापुर गांव की है। पुलिस जांच पड़ताल में जुटी है। पांच संदिग्धों को हिरासत में लिया गया। चोरों ने दो अन्य घरों को भी निशाना बनाया।

मिली जानकारी के मुताबिक रविवार रात चोरों ने संदना थाने के गांव समसापुर निवासी चंद्रपाल के घर धावा बोला। चोरों की आहट सुनकर चंद्रपाल का 30 वर्षीय पुत्र मोहन जग गया। घर में चोरी होता देख वह चोरों से भिड़ गया। खुद को फंसता देख चोरों ने गोली चला दी। गोली मोहन को लग गई। शोर व फायर की आवाज सुनकर चोर भाग निकले। सूचना पर पहुंची थाना पुलिस ने घायल युवक को आनन फानन में सीएचसी पहुंचाया। सीएचसी से युवक को लखनऊ रेफर कर दिया गया। युवक की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।

दो अन्य घरों में भी उत्पात, ले गए लाखों का मालः चंद्रपाल के घर धावा बोलने से पहले चोरों ने गांव के रामदास के घर को निशाना बनाया। घर से जेवर व नकदी सहित करीब तीन लाख की चोरी कर ले गए। बाद में गांव के भूरे सिंह के घर घुसे। चोर, भूरे सिंह के घर से भी लाखों का माल समेट ले गए। चंद्रपाल का बेटा चोरों से भिड़ गया इस वजह से चोर वारदात को अंजाम नहीं दे सके।

हिरासत में पांच संदिग्धः वारदात की सूचना पर थाना पुलिस के अलावा सीओ मिश्रिख, एएसपी भी मौके पर पहुंचे। पांच संदिग्धों को हिरासत में लिया गया। घटना के अनावरण के प्रयास किए जा रहे हैं। चोरों की संख्या तीन बताई जा रही है। थानाध्यक्ष फतेह सिंह ने बताया कि युवक का उपचार चल रहा है। जांच की जा रही है।

दो घरों में चोरी और फायर से गांव में सनसनीः दो घरों से लाखों की चोरी और चोरी के प्रयास में गृह स्वामी के बेटे पर फायर करने की वारदात से गांव में सनसनी फैल गई। ग्रामीणों की भीड़ पीड़ित के दरवाजे पर जुटी। पास-पड़ोस गांव के ग्रामीण भी घटनास्थल पर पहुंचे। पुलिस की टीमें चोरों की तलाश में जुटी है।

Edited By: Dharmendra Mishra